देश की आजादी की रक्षा हमारा दायित्व: मेघवाल

सामाजिक न्याय एवं अधिकारिता मंत्राी मा. भंवर लाल मेघवाल ने कहा है लाखों नाम-अनाम लोगों के संघर्ष और बलिदान से हमारे देश को स्वतंत्राता हासिल हुई है। हमारे भीतर लोकतांत्रिक मूल्यों का विकास हो, हम जाति और धर्म से ऊपर उठकर अपने भीतर सहिष्णुता का विकास करें, तभी सच्चे अर्थों में यह उन क्रांतिकारियों की शहादत का सम्मान है। मेघवाल शनिवार को सुजानगढ़ में नगर परिषद की ओर से महेश्वरी सेवा सदन में आयोजित ‘शहादत को सलामÓ कार्यक्रम में बतौर मुख्य अतिथि संबोधित कर रहे थे। इस दौरान उन्होंने शहीद वीरांगना का शॉल एवं श्रीफल भेंटकर सम्मान किया। उन्होंने कहा कि विदेशियों की शोषण एवं लूट की नीति के बाद जब स्वाधीनता मिली तो उस समय देश की हालत बहुत कमजोर थी एवं कोई भी चीज देश में नहीं बनती थी। पिछले 70 साल में देश ने बहुत तरक्की की है और आज देश दुनिया के अग्रणी देशों में शुमार है।

हम देश के अच्छे नागरिक बनें, अपने कार्य को ईमानदारी व निष्ठा से करें, यही सच्ची देश सेवा है। हम सभी को यह कोशिश करनी चाहिए कि हम देश को सशक्त बनाने में अपना योगदान दें और हमारे किसी भी कार्य से देश को और देश की छवि को नुकसान नहीं पहुंचे। उन्होंने बताया कि राज्य सरकार प्रदेश के उत्थान और प्रत्येक वर्ग के कल्याण के लिए संकल्पबद्ध होकर काम कर रही है। उन्होंने बताया कि शीघ्र ही सुजानगढ़ नगर परिषद के लिए 3 करोड़ रुपए की लागत से नया भवन बनाया जाएगा। नगर परिषद सभापति सिकंदर अली खिलजी की अध्यक्षता में हुए समारोह में विशिष्ट अतिथि एसडीएम रतन कुमार स्वामी, प्रधान गणेश ढाका, एएसपी सीताराम माहिच, आयुक्त बसंत कुमार, उप सभापति बाबूलाल, सरपंच सविता राठी, विद्याधर बेनीवाल, बजरंग सैन, उप प्रधान दीवान सिंह आदि ने भी विचार व्यक्त किए। इस अवसर पर मो. इदरीश गौरी, पार्षद इकबाल खान, श्यामलाल गोयल, मनोज दाधीच, अमित मारोठिया सहित अनेक लोग उपस्थित थे। संचालन रामलाल गुलेरिया ने किया।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here