तपस्या से आत्मा होती है पवित्र – मुनि हिमांशु कुमार

SHARE

तेरापंथ के आचार्य महाश्रमण के शिष्य मुनि हिमांशु कुमार ने अपने सहवर्ती संतो के साथ कस्बे के दस्साणी भवन में चार्तुमास कर रहे हैं। शनिवार को 18 दिन की तपस्या पर सहवर्ती संत मुनि दिनकर का अभिनंदन किया गया। इस अवसर पर उपस्थित जनों को सम्बोधित करते हुए मुनि हिमांशु कुमार ने कहा कि तपस्या करने वाला अपनी आत्मा को पवित्र बनाता है। भगवान महावीर के अनुसार तप वही कर सकता है, जिसमें शरीर बल के साथ-साथ धैर्य और मनोबल होता है। इससे पूर्व मुनि जिज्ञासु कुमार ने गीतिका के माध्यम से अपने विचार व्यक्त किये। मुनि दिनकर ने भी विचार व्यक्त किये। संयोजन करते हुए मुनि हेमन्त कुमार ने गृहस्थ जीवन, वैराग्य जीवन एवं सन्यास ग्रहण की झलक प्रस्तुत करते हुए उनके विविध संकल्पों पर प्रकाश डाला।

1 COMMENT

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here