न्याय आपके द्वार शिविर का अधिक से अधिक लाभ उठायें – कलेक्टर

SHARE

ग्राम पंचायत गुलेरिया के अटल सेवा केन्द्र में आयोजित न्याय आपके द्वार शिविर का दोपहर बाद जिला कलक्टर ललित गुप्ता ने अवलोकन किया। अवलोकन के दौरान जिला कलक्टर को एसडीएम अभिलाषा ने शिविर की प्रगति की जानकारी दी। कलक्टर गुप्ता ने ग्रामीणों से अधिक से अधिक पट्टे बनवाने के लिए पत्रावलियां तैयार करने की अपील करते हुए कहा कि हमें इन शिविरों का अधिक से अधिक फायदा लेना चाहिए। सुजानगढ़ के पीथाराम ज्याणी ने कलक्टर को ज्ञापन सौंपकर नगरपरिषद द्वारा शहर के गंदे पानी की निकासी के लिए माधोलाई में नियम विरूद्ध खोदे गये गड्ढे को बंद करवाने, अम्बेडकर भवन के पास कटाणी मार्ग पर किये गये अतिक्रमण को हटाये जाने की मांग की। इसी प्रकार अखंडानाथ बाबा सेवा समिति के गजानंद जांगिड़ ने बगीची पर हो रहे अतिक्रमण को रोके जाने की मांग की। शिविर में गांव के रामकरण गुलेरिया ने गांव में शराब बंदी की मांग की।

जिला कलक्टर जिस वक्त ग्रामीणों की समस्या सुन रहे थे, तभी एक ग्रामीण ने अपने घर के सामने स्थित विद्युत पोल को हटाने की मांग की, जिस पर विद्युत विभाग के एक्सईएन के.के. कस्वां ने जानकारी दी कि इसके लिए एस्टीमेट बना हुआ है, अगर ये राशि जमा करवा देंगे तो पोल हटा देंगे। इसी दौरान अधिवक्ता महेंद्र गुलेरिया ने कस्वां को टोकते हुए कहा कि तत्कालीन उपखण्ड अधिकारी अजय आर्य ने ढ़ाई साल तक अपने आवास पर बिजली का अवैध कनेक्शन किये रखा, आपने उनको तो कोई एस्टीमेट नहीं दिया। ये गरीब आदमी फटे शर्ट वाला एस्टीमेट केवल इसी के लिए लागू है। जिस पर एक्सईएन कस्वां ने जवाब देते हुए कहा कि जिला कलक्टर के सामने आप सार्वजनिक मंच का दुरूपयोग करना चाहते हैं, जिसको विभाग कतई बर्दाश्त नहीं करेगा।

कस्वां ने कहा कि आपने मुझे कोई शिकायत की है तो बताईए। मेरे ऑफिस में इस प्रकार की कोई शिकायत पेंडिंग नहीं है। इस बात पर काफी देर तक गरमागरमी के बाद जिला कलक्टर व एसडीएम ने अधिवक्ता को रोकते हुए मामला शंात करवाया और एक्सईएन को नियमानुसार कार्यवाही करने के लिए कहा। यहां गौर करने वाली बात ये है कि जिस एसडीएम की अधिवक्ता शिकायत कर रहे थे, उनका स्थानांतरण हो चुका है। शिविर में तहसीलदार सुशील सैनी, सरपंच सुनीता भाटी सहित विभिन्न विभागों के अधिकारीगण उपस्थित थे। 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here