डकैती के मामले में नागपुर पुलिस ने एक को और दबोचा

SHARE

Nagpur-police

डकैती के मामले में नागपुर पुलिस ने एक और जने को सालासर थाना क्षेत्र के खारिया गांव से गिरफ्तार किया है। सालासर थाना प्रभारी कमल कुमार के अनुसार महाराष्ट्र के नागपुर जिले के लकडग़ंज थाने में दर्ज डकैती के मामले में जांच करने के बाद आरोपियों की गिरफ्तारी के लिए नागपुर पुलिस ने चूरू पुलिस अधीक्षक से सम्पर्क किया।

जिस पर एसपी साहब ने पुलिस उप अधीक्षक हेमाराम चौधरी के नेतृत्व में सुजानगढ़ थानाप्रभारी उम्मेदसिंह व सालासर थाना प्रभारी कमलकुमार की एक टीम का गठन किया। टीम ने अति गोपनीय तरीके से कार्यवाही करते हुए 15 मार्च को सुरेन्द्र पुत्र बिशनाराम रैगर निवासी सुजानगढ़ व युनूस पुत्र सलाउद्दीन काजी निवासी छापर को दबोचा तथा 16 मार्च को अजयसिंह पुत्र बहादूरसिंह राजपूत निवासी खारिया को धर लिया। सालासर एसएचओ के अनुसार युनूस पर कुल 15 मामले दर्ज हैं, जिनमें से 10 मामले लूट व डकैती के हैं तथा सुरेन्द्र के खिलाफ लूट व डकैती के पांच मामले दर्ज है। वहीं अजय के खिलाफ भी पांच मामले दर्ज है। हैदराबाद, नई दिल्ली के चांदनी चौक, बैंगलोर, कोलकाता, सिलीगुड़ी, नागपुर सहित आठ-नौ थानों में डकैती के मामलों में शामिल होना आरोपियों ने स्वीकार किया है।

तीनों आरोपियों से प्रारम्भिक पुछताछ में सामने आया कि अगर इन्हे नहीं पकड़ा गया होता तो ये 17 से 20 मार्च के बीच लखनऊ या चैन्नई में लूट की एक वारदात को अंजाम देने की फिराक में थे। सालासर थानाप्रभारी कमलकुमार ने बताया कि खारिया से पकड़े गये अजयसिंह का पिता बहादूरसिंह भी सालासर थाने का हिस्ट्रीशीटर है तथा उसके खिलाफ 25-30 मामले हत्या, लूट, डकैती आदि के दर्ज है। बहादूरसिंह कोटा की कुख्यात भानूप्रताप गैंग का सदस्य रहा है, जो फिलहाल बीकानेर जेल में सजा काट रहा है।

NO COMMENTS

LEAVE A REPLY