प्रशासन व सेना को नहीं मिली तीसरे दिन भी सफलता

SHARE

Bore-wells

तैलाप के बोरवैल में फंसे ढ़ाई वर्षिय बालक राधेश्याम को तीसरे दिन भी नहीं निकाला जा सका। सेना ने हार नहीं मानते हुए अपने प्रयासों को तीसरे दिन बुधवार को भी जारी रखा। बुधवार सुबह शुरू करने के बाद जयपुर से मंगवाये गये हाईरिजोलेशन कैमरे के सैट नहीं होने के कारण उसे हटाया गया तथा सेना के खराब हो चूके कैमरे को बीकानेर से ठीक करवाकर मंगवाया गया। वहीं बचाव कार्य के दौरान ग्रामिणों की भारी भीड़ मौके पर दिनभर मौजूद रही।

राधेश्याम के बचाव में जुटी सेना व प्रशासन को लगातार मिल रही असफलता से लोगों का धैर्य जवाब देने लगा हैं। लेकिन हार नहीं मानते हुए सेना अपने अभियान पूरे दम खम के साथ जुटी हुई है। मौके पर मौजूद ग्रामिणों द्वारा सफलता को लेकर प्रशासन से सवाल किये जा रहे हैं। उपखण्ड अधिकारी फतेह मोहम्मद खान, तहसीलदार सुरेन्द्र प्रसाद, साण्डवा थाना प्रभारी राजेश सिहाग, ग्राम सेवक घनश्याम भाटी, सरपंच संघ अध्यक्ष केशराराम गोदारा आदि सेना के सहयोग के लिए मौके पर जुटे हुए हैं।

ग्रामिणों की बढ़ती भीड़ को देखते हुए मौके पर पुलिस के जवानों की भी पहले दिन से तैनाती की गई है। प्रशासन द्वारा बचाव अभियान में किसी प्रकार की कमी नहीं रखते हुए प्रदेश के अन्य भागों से संसाधन जुटाने के प्रयास किये जा रहे है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here