अस्थमा मरीज को लगाया एक्सपायरी इंजेक्शन

SHARE

Injection

कस्बे के राजकीय बगडिय़ा चिकित्सालय में एक ही महिला के दो ब्लड ग्रुप की जांच की आंच धीमी पड़ी ही नहीं कि मुख्यमंत्री दवा योजना वितरण केन्द्र से रोगी को एक्सपायरी दवाई दिये जाने का मामला गरमा गया है। विजय कुमार भास्कर निवासी राजियासर चक ने मुख्य चिकित्सा अधिकारी को दिये शिकायती पत्र में लिखा है कि उसके पिताजी रामेश्वरलाल भास्कर अस्थमा के मरीज हैं, जो चिकित्सालय में दिनांक 24 दिसम्बर 2013 से भर्ती हैं।

दिनांक 25 दिसम्बर की रात को अस्थमा की शिकायत होने पर उन्हे सालबूटामोल 10 एमएल का इंजेक्शन नेबूलाईज कर दिया गया। जिस पर बैच नं. 61385, निर्माण तिथी सितम्बर 2011 तथा एक्सपायरी दिनांक अगस्त 2013 अंकित थी। शिकायत कर्ता ने लिखा है कि अगस्त में एक्सपायर हो चूकी दवाई दिसम्बर मरीज को देकर इलाज में गम्भीर लापरवाही की गई है। पत्र में अस्पताल की व्यवस्था पर सवालिया निशान लगाते हुए लिखा है कि चिकित्सालय के स्टॉक में एक्सपायरी दवाई का होना ही अस्पताल प्रशासन की कार्य कुशलता पर प्रश्न चिन्ह लगा रहा है। पत्र में दोषी व्यक्तियों के खिलाफ कार्यवाही करने की मांग की गई है।

NO COMMENTS

LEAVE A REPLY