उदारीकरण से मंडरा रहा है देश पर आर्थिक संकट – रामसिंह कस्वां

SHARE

Bharatiya-Janata-Party

भारतीय जनता पार्टी का देहात व शहर मण्डल का कार्यकर्ता सम्मेलन स्थानीय यंग्स क्लब परिसर में जिला अध्यक्ष बसन्त शर्मा की अध्यक्षता एवं सांसद रामसिंह कस्वां के मुख्य आतिथ्य में आयोजित किया गया। सम्मेलन में उपस्थित कार्यकर्ताओं को सम्बोधित करते हुए सांसद रामसिंह कस्वां ने कहा कि जाति धर्म के नाम पर माहौल को खराब करने वालों से बचकर रहने के साथ ही एकजुट होकर आगामी विधानसभा चुनावों में भाजपा को विजयी बनाने के लिए आज से ही जुट जायें।

कस्वां ने कहा कि 1991 में तत्कालीन प्रधानमंत्री पी.वी. नरसिम्हा राव की सरकार में वर्तमान प्रधानमंत्री मनमोहनसिंह द्वारा वितमंत्री रहते लागू किये गये उदारीकरण से आज देश में आर्थिक संकट मंडरा रहा है। कांग्रेस की सरकार में गरीब व किसान की सुनने वाला कोई नहीं है। जिला प्रभारी राजेन्द्र सोनावाला ने कहा कि चुनाव जीतने के लिए बुथ प्रबन्धन आवश्यक है। अनुसूचित मोर्चा के राष्ट्रीय कार्यकारिणी सदस्य गणेश मण्डावरिया ने कहा कि कांग्रेस के शासन में आम जन एवं भाजपा कार्यकर्ताओं पर अत्याचार होते रहे, तब हमारे नेता कहां थे? मण्डावरिया ने कहा कि हमारे नेता विधायक मा. भंवरलाल के कारनामें उजागर करने में विफल रहे। मण्डावरिया ने सफाई कर्मचारियों की भर्ती में विधायक मा. भंवरलाल को बाधक आरोप लगाया कि विधायक ने षडय़न्त्रपूर्वक नगरपरिषद के आयुक्त को यहां से निकाल दिया।

पूर्व मंत्री खेमाराम मेघवाल ने कहा कि कांग्रेस के शासन में भाजपा कार्यकर्ताओं पर झूठे मुकदमें करवाकर दहशत फैलाने का प्रयास किया गया। मंत्री रहते अपने द्वारा करवाये गये विकास कार्यों को याद करते हुए कहा कि विधायक मा. भंवरलाल ने भाजपा के समय में करवाये गये विकास कार्यों का उद्घाटन कर श्रेय लिया है तथा दस-दस मीटर की सड़कों और पेचवर्क कार्यों तक पर पत्थर लगा दिये। बस स्टैण्ड को शुरू नहीं करने, पुलिस थाने के लिए जमीन का अलॉटमेन्ट होने के बाद भी निर्माण के लिए राशि स्वीकृत नहीं करवाने आदि कार्यों का गिनाते हुए विधायक पर भाजपा के शासन में शुरू की गई योजनाओं को बंद करने का आरोप खेमाराम ने लगाये। पूर्व मंत्री ने कहा कि आपणी योजना के लिए वसुन्धरा राजे के मुख्यमंत्री रहते योजना स्वीकृत हो गई थी, जिसे ये अपनी बताकर वाह-वाही लुट रहे हैं। जीएलआर सहित निर्माण कार्योँ में लुट खसोट करने का आरोप लगाते हुए खेमाराम ने कहा कि आज सबकुछ बांटने वाले साढ़े चार साल तक कहां थे।

पूर्व विधायक रामेश्वर भाटी ने कहा कि आगामी विधानसभा चुनाव महाभारत का युद्ध है, जो भ्रष्टाचार व शिष्टाचार के मध्य लड़ा जायेगा। सम्मेलन को पूर्व जिला प्रमुख रामदेवसिंह ढ़ाका, छात्र संघ के पूर्व अध्यक्ष हितेष जाखड़, जगदीश नाई बीदासर, नगरपालिका बीदासर के अध्यक्ष हुक्मीचन्द रैगर, नगरपरिषद सुजानगढ़़ के सभापति डा. विजयराज शर्मा, लालूराम लोमरोड़, मनोज ढ़ाका सड़ू, रतनसिंह साण्डवा, रामलाल सिद्ध, बाबूलाल तेजस्वी ने भी सम्बोधित किया। सम्मेलन में एड. भीमसिंह, नेमाराम जाखड़, मदनसिंह शोभासर, यशोदा माटोलिया, गुलाम रसूल बल्खी, पुष्पलता मण्डार सहित अनेक भाजपा नेता मंचासीन थे।

अतिथियों का स्वागत देहात मण्डल अध्यक्ष गणपत डोगीवाल, शहर मण्डल अध्यक्ष जंवरीमल बागड़ी, हेमराज माली ने किया। कार्यक्रम में राजकुमार बेड़ा, पार्षद मनोज पारीक मंजूदेवी सामरिया, बीरबल प्रजापत, लीलाधर खण्डेलवाल, एड. बादल सोनीवाल, मदनलाल इन्दोरिया, भंवरलाल गिलाण, गणपतदास स्वामी, भागीरथ करवा, सीताराम सामरिया, परमेश्वरलाल करवा, नीलमकुमार गंगवाल, बनवारी गुरू, महेश जोशी सहित सैंकड़ों भाजपा कार्यकर्ता उपस्थित थे। संचालन बुद्धिप्रकाश सोनी ने किया।

NO COMMENTS

LEAVE A REPLY