दो वर्ष पुराने हत्या व फायरिंग के मामले में आनन्दपाल को न्यायालय में किया पेश

SHARE

Anandpal

दो वर्ष पूर्व तहसील के ग्राम गनौड़ा व भोजलाई चौराहे पर फायरिंग व हत्या के मामले में नामजद आरोपी आनन्दपालसिह को पुलिस ने गुरूवार को भरतपुर की सेवर जेल से प्रोडक्शन वारंट पर सुजानगढ़ लाकर न्यायालय में पेश किया गया। अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक चूरू राजकुमार चौधरी के नेतृत्व में कड़ी सुरक्षा के बीच अतिरिक्त मुख्य न्यायिक मजिस्टे्रट राजेंद्र कुमार सैनी के समक्ष पेश किया गया। जहां से एसीजेएम ने पुलिस जांच के लिए आनंदपाल सिहं को डीएसपी नितेश आर्य को सौंप दिया। इस दौरान डीएसपी नितेश आर्य ने आंनदपाल के अपराधिक रिकार्ड को देखते हुए उसे हथकड़ी लगाने की अर्जी पेश की,जिसे न्यायालय ने स्वीकार करते हुए आंनदपाल को हथकड़ी लगाने के निर्देश दिए।

दुसरी ओर आरोपी आनंदपाल सिंह के वकील डीएस राठौड़ व नरेश सोनी ने न्यायधीश के समक्ष प्रार्थना पत्र प्रस्तुत कर आरोपी को न्यायिक अभिरक्षा में भेजने की मांग की। उन्होंने अपनी अर्जी में बताया कि आरोपी की पुलिस जांच की आवश्यकता नहीं है क्योंकि इन मामलों में कोई बरामदगी शेष नहीं है,आरोपी के अन्य साथियों का पुलिस पूर्व में ही चालान पेश कर चुकी है। गौरतलब है कि पुलिस आनंदपालसिंह को शुक्रवार को पुन: कोर्ट में पेश करेगी। डीएसपी नितेश आर्य ने बताया कि आरोपी आनन्दपालसिह पर वर्ष 2011 में गांव गनौड़ा में शराब ठेके के सैल्समैन के भाई राकेश जाट की हत्या सहित कस्बें के भोजलाई चौराहे पर फायरिंग करने का आरोप था। इस मामले में आरोपी बलबीर बानूड़ा व रामसिह सहित कई अन्य पूर्व में गिरफ्तार हो चुके है।
कोर्ट परिसर छावनी बना

गनौड़ा के राकेश हत्या कांड के मुख्य आरोपी आनन्दपालसिह को गुरूवार भारी पुलिस जाप्ता की तैनाती में न्यायालय में लाया पेश किया गया तो उसे देखने के लिए न्यायालय परिसर में लोगो की भारी भीड़ जमा हो गई। आनन्दपालसिह की पेशी के दौरान सशस्त्र बल जवान तैनात रहे जिस पर कोर्ट परिसर में छावनी के रूप में नजर आया। इस मौके पर एएसपी राजकुमार चौधरी, डीएसपी नितेश आर्य, सीआई हनुमानसिह, अमीर हसन, सांडवा थानाप्रभारी करणाराम, छापर थानाप्रभारी सत्येन्द्र सहित बड़ी संख्या में पुलिस के जवान मौजूद थे।

1 COMMENT

LEAVE A REPLY