सुजानगढ़ सड़क के लोकार्पण समारोह को सम्बोधित करते हुए विधायक मा.भंवरलाल मेघवाल

SHARE

Road

विधायक मा.भंवरलाल मेघवाल ने वाल्मिकी बस्ती में निर्मित सीसी सड़को का लोकार्पण किया। राजकीय प्राथमिक विद्यालय न. 8 में आयोजित समारोह में पिछले चार वर्षो में कराये गये कार्यो को गिनाते हुए सुजानगढ़ क्षेत्र में विकास की रफ्तार को बढाने व सुजानगढ का सौन्दर्यकरण करने का प्रयास किया है। मेघवाल ने कहा कि शहर के सौन्दर्यकरण के लिए चार करोड़ 91 लाख रूपये नगरपालिका को दिये है। पालिका की कार्यक्षमता होने पर विकास की गति वार्डो में बढ सकती है।

वार्डो में सड़के , नालियों का निर्माण व गंदे पानी की निकासी के लिए धनाभाव नही आने दिया जायेगा। उन्होने कहा कि मेरे कार्यकाल के दौरान उपेक्षित बस्तियों व अनुसूचित जाति की बस्तियों में सड़को का जाल बिछाया गया है। सुजानगढ कस्बें के चहूंओर सड़कों व पाइप लाइनों व नालियों का निर्माण चल रहा है। इसके अलावा हाल ही में मुख्यमंत्री द्वारा दिए गये बजट में सुजानगढ कस्बें में अनेक सौगाते को गिनाते हुए कहा कि सुजानगढ़ की कार्य पलट कर बड़े शहरों की तरह सुजानगढ को शामिल करने का किया जा रहा है। पिछले तीस पैतीस बर्षो से चली आ रही पानी की बड़ी समस्या का स्थाई समाधान 806 करोड़ रूपये की लागत से चल रहे कार्य को सबसे बड़ी उपलब्धि बताया। इस अवसर पर गणपतराम फलवाडिय़ा, महबुब व्यापारी, रामनारायण प्रजापत, भंवरलाल सुंगत, रामावतार शर्मा, अन्नाराम डाबरिया, तहसीलदार मूलचंद लूणिया मंचस्थ थे।

मौहल्लेवासियों ने अतिथियों का आतिशबाजी कर भव्य स्वागत किया। विधायक मा.भंवरलाल मेघवाल का बाबूलाल कुलदीप, ओमप्रकाश ने साफा व माल्यार्पण कर अभिनन्दन किया। विष्णु देव सियोता, रामाकिशन सियोता, किशन फलवाडिय़ा, अजय ढेनवाल, सुरजाराम डाबरिया, बंटी लाखन, साबिर सब्जीफरोस, दीनदयाल, श्रवण सियोता, डूंगरमल मेघवाल ने अतिथियों का स्वागत किया। ओम प्रकाश सियोता ने विधायक को वाल्मिकी बस्ती की विभिन्न समस्याओं से अवगत करवाते हुए बताया कि गंदे पानी की निकासी के अभाव में वर्षा के समय पूरी बस्ती पानी से जलमग्र हो जाती है।

अजय ढेनवाल ने वाल्मिकी समाज के लिए नये सार्वजनिक भवन बनाने की मांग की। बाबूलाल कुलदीप ने रेगर बस्ती में दो सड़को का निर्माण करवोन की मांग की। जिस पर विधायक ने सार्वजनिक निर्माण विभाग के सहायक अभियंता एमपीसिह को स्टूमेंट बनाने के निर्देश दिए। कार्यक्रम का संचालन विजय कुमार ढेनवाल ने किया।

NO COMMENTS

LEAVE A REPLY