दवा के नाम पर मरीज के परिजन से रूपये ऐंठें

SHARE

Medicine

कस्बे के राजकीय बगडिय़ा चिकित्सालय में शराब पीकर उत्पात मचाने तथा चिकित्सक द्वारा लिखी दवाई लाने तथा इंजेक्शन लगाने के नाम पर रूपये ऐंठने वालों से मरीज और उनके परिजन परेशान है। चिकित्सक द्वारा लिखी गई दवाई लाने के नाम पर अस्पताल में भर्ती मरीज के परिजनों से रूपये ऐंठने के आरोप में चिकित्सालय के चर्तुथ श्रेणी कर्मचारी को लोगों ने पकड़कर उसकी जमकर धुनाई कर दी तथा बाद में उसे पुलिस को सौंप दिया गया।

प्राप्त जानकारी के अनुसार कस्बे के राजकीय बगडिय़ा चिकित्सालय में बैरासर निवासी पेमाराम का लड़का चुन्नीलाल मेघवाल पिछले पांच दिनो से पेट सम्बन्धी रोग के कारण भर्ती है। चुन्नीलाल के नाना डूंगरास आथुणा निवासी दूड़ाराम ने उक्त जानकारी देते हुए बताया कि बीती रात को चिकित्सालय में कार्यरत चतुर्थ श्रेणी कर्मचारी राजेन्द्रसिंह पुत्र सुमेरसिंह राजपूत निवासी सुजानगढ़ बीती रात पेमाराम के पास आया और बोला कि डॉक्टर साहब ने पर्ची में दवाई लिखी है, दवाई लाने के लिए एक हजार रूपये दो। जिस पर पेमाराम ने साढ़े सात सौ रूपये उसे दिये। जिसके बारे में पता चलने पर रविवार सुबह लोगों ने पकड़कर उसकी जमकर धुनाई कर दी तथा उसे पुलिस के हवाले कर दिया। पुलिस ने आरोपी को शराब पीकर सार्वजनिक स्थान पर उत्पात मचाने के आरोप में गिरफ्तार कर लिया। चिकित्सालय के पीएमओ डा. सी.आर . सेठिया ने बताया कि चतुर्थ श्रेणी कर्मचारी के खिलाफ पुलिस थाने में एफआईआर दर्ज करवाई है।

इसी प्रकार रविवार शाम को शराब पीकर उत्पात मचाते तथा इंजेक्शन लगाने के बदले रूपये मांगने पर अस्पताल में भर्ती मरीजों के परिजनों ने शंकरलाल पुत्र तौलराम प्रजापत निवासी वार्ड नं. 3 सुजानगढ़ को पकड़कर उसकी धुनाई करने के बाद उसे पुलिस को सौंप दिया। पुलिस ने आरोपी को शराब पीकर सार्वजनिक स्थान पर उत्पात मचाने के आरोप में गिरफ्तार कर लिया। पीएमाओ डा. सीआर सेठिया ने बताया कि बीती रात को अस्पताल में भर्ती महिला मरीज से इंजेक्शन लगाने के बदले शंकरलाल ने रूपये मांगे थे, तब महिला ने कहा कि उसके पास रूपये नहीं है, सुबह आकर ले जाये। जिस पर शंकरलाल रविवार शाम को शराब पीकर अस्पताल में आया और उत्पात मचाने लगा। जिसे पुलिस के हवाले कर दिया तथा उसके खिलाफ एफआईआर दर्ज करवाई है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here