पुलिस की शिथिलता के चलते आवारागर्दों के हौंसले बुलन्दी पर

SHARE

awaragardi

कस्बे में पुलिस की गश्त को धता बताते हुए आवारागर्दों करने वालों के हौंसले बुलन्दी पर है। पिछले करीब एक महीने से शहर के विभिन्न मौहल्लों में महिलाओं व युवतियों तथा लड़कियों के साथ छेड़छाड़ करने तथा अकेले चल रहे युवकों के साथ मोटरसाइकिल सवारों द्वारा धक्का देने तथा चैन तोडऩे के प्रयास करने के मामले रोजाना सामने आ रहे हैं। इसके बावजूद भी पुलिस किसी बड़ी वारदात के इंतजार में हाथ पर हाथ धरे बैठी है।

नगर के नया बास, वेंकटेश्वर मन्दिर के पीछे, दुलियां बास में बिना नम्बरी मोटरसाइकिल सवारों का आतंक जमकर महिलाओं, युवतियों व कॉलेज तथा स्कूली छात्राओं में है कि उन्हे घरों से निकलने पर ही डर लगने लगा है। सुबह करीब साढ़े पांच बजे से आठ बजे तक तथा शाम को दिन ढ़लने के साथ ही महिलाओं के साथ होने वाली इन घटनाओं में लगातार वृद्धि हो रही है। बिना नम्बरी मोटरसाइकिल पर तीन-चार युवक सवार होकर आते हैं तथा सुबह-शाम दूध लेने के लिए घरों से निकलने वाली महिलाओं को पीछे से धक्का देकर गिराने, उनके पीछे से चिकोटी काटना, उनके गाल खींचने की हरकतों के साथ ही चैन तोडऩे के प्रयास इन युवकों द्वारा किये जा रहे हैं। ये आवारा युवक केवल महिलाओं के साथ ही नहीं अकेले जाने वाले पुरूषों के भी थप्पड़ मारने व धक्का देकर गिरा रहे हैं।

उलहाना देने पर इशारे से और मारने की धमकी देते हैं। इस सबको जानकर भी पुलिस अनजान बन कर कुम्भकर्णी नींद सोये हुए है। जिससे इस प्रकार की छेड़छाड़ की वारदातों में इजाफा हो रहा है तथा आवारागर्दी करने वालों के हौंसले बुलन्दी पर है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here