नृत्य नाटिका के माध्यम से व्यक्त की बेटी की असुरक्षा

SHARE

Sonadevi-Sethia-PG-Girls-college

स्थानीय सोनादेवी सेठिया पी.जी. कन्या महाविद्यालय में उपखण्ड अधिकारी फतेह मोहम्मद खान की अध्यक्षता एवं राजस्थान विश्वविद्यालय, जयपुर की प्रोफेसर एवं सिंडीकेट मेम्बर इनाक्षी चतुर्वेदी के मुख्य आतिथ्य में वार्षिकोत्सव का आयोजन किया गया। महाविद्यालय संरक्षिका सन्तोष व्यास, प्राचार्या डा. मधु मंजरी दुबे, सचिव एन.के. जैन भी मंचासीन थे।

अतिथियों का स्वागत शॉल ओढ़ाकर, माला पहनाकर एवं श्रीफल भेंटकर पूर्व प्राचार्या सन्तोष व्यास, प्राचार्या डा. मधु मंजरी दुबे, सचिव एन.के. जैन, व्यख्याता आशा भार्गव, कोमल शर्मा, छात्रा संघ अध्यक्षा सरोज जानूं ने किया। रोहिणी बागड़ा की गणेश वन्दना से शुरू हुए कार्यक्रम में छात्राओं ने सांस्कृतिक प्रस्तुतियां दी। पूर्व प्राचार्या सन्तोष व्यास ने कहा कि महाविद्यालय में आगामी सत्र से पोलोटेक्निक महाविद्यालय के साथ-साथ भुगोल एवं संगीत में एम.ए. की कक्षायें शुरू कर दी जायेगी। जिनकी कार्यवाही प्रारम्भ कर दी गई है।

उपखण्ड अधिकारी फतेह मोहम्मद खान ने कहा कि महाविद्यालय के साथ – साथ घर पर भी अच्छा माहौल मिलने पर ही उत्कृष्ट परिणाम सामने आते हैं। खान ने कहा कि पुरूस्कार नहीं मिलने से निरूत्साहित नहीं होकर प्रतिस्पद्र्धा की भावना को मन में रखते हुए प्रयास करें, सार्थक परिणाम जरूर मिलेंगे। उन्होने ईष्र्या का त्याग करने का आह्वान करते हुए मतदाता सूची में नाम जुड़वाने की अपील की। खान ने अवैद्य रूप से लिंग परीक्षण करने एवं गलत रिपोर्ट देने वाले सोनोग्राफी सेन्टरों के बारे में जानकारी देने की अपील की। समारोह में सालासर गु्रप ने नृत्य नाटिका के माध्यम से बेटी की असुरक्षा को व्यक्त किया। प्राचार्या डा. मधु मंजरी दूबे ने वार्षिक प्रतिवेदन प्रस्तुत किया।

मुख्य अतिथि सिंडीकेट सदस्या इनाक्षी चतुर्वेदी ने छात्राओं से पश्चिमी संस्कृति का अनुसरण नहीं करने का आह्वान करते हुए पुरूस्कृत छात्राओं की सराहना करने के साथ भविष्य में आगे बढऩे के लिए प्रेरित किया। कार्यक्रम का संचालन व्यख्याता अपूर्व शर्मा एवं अरूणा सोनी तथा प्रेम नेहरा ने संयुक्त रूप से किया।

NO COMMENTS

LEAVE A REPLY