विधायकों एवं सरकार नेगेटिव मार्किंग सुनिश्चित करने की मांग

SHARE

negative-marking

कस्बे के वरिष्ठ नागरिक पूर्व नगरपालिका अध्यक्ष हाजी गुलाम सदीक छींपा, ब्लॉक कांग्रेस के कोषाध्यक्ष सत्यनारायण खाखोलिया एवं राजस्थान पेंशनर समाज के पूर्व सचिव नरसाराम फलवाडिय़ा ने कांग्रेस के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष राहूल गांधी को पत्र प्रेषित कर प्रतियोगी परीक्षाओं की तरह क्षेत्रिय विधायकों एवं सरकार की नेगेटिवक मार्किंग सुनिश्चत करने की मांग की है।

पत्र में लिखा है कि विधानसभा चुनाव 2008 के बाद मुख्यमंत्री के रूप में पिछले चार वर्षों से विकास कार्यों के मूल्यांकन के अभाव के साथ-साथ क्षेत्र के लिए विशेष पैकेज की घोषणा का अभाव रहा। 40 वर्ष पूर्व टाऊन हॉल के लिए राशि जमा करवाने के बाद भी इसके निर्माण पर कोई ध्यान नहीं, सरकार द्वारा जवाबदेही सुनिश्चित करने के अभाव में ट्रोमा सेन्टर अधूरा पड़ा है तथा सरकारी अस्पताल में महिला चिकित्सक का अभाव है और सीवरेज-ड्रैनेज की मांग को अनदेखी करने से सुजानगढ़ पड़ौसी कस्बों से विकास की दौड़ में पिछड़ गया है। बीकानेर राजश्रभ् के समय जिला होने के बाद भी इसे जिला घोषित नहीं किया जा रहा है।

NO COMMENTS

LEAVE A REPLY