मृत्युभोज व नशा मुक्त समाज बनाने का निर्णय

SHARE

Jaynti-of-Sant-Ravidas

स्थानीय रैगर समाज द्वारा संत रविदास की जयन्ति समारोह हर्षोल्लास पूर्वक मनाया गया। संत रविदास आश्रम से गाजे-बाजे के साथ कस्बे के प्रमुख मार्गों से शोभायात्रा निकाली गई। शोभायात्रा में महिलायें मंगल कीर्तन करते हुए चल रही थी तथा समाज के अनेक महिला व पुरूष शामिल थे। रैगर बस्ती से शुरू हुई शोभायात्रा रैगर बस्ती, नया बाजार, गांधी चौक, घण्टाघर, शास्त्री प्याऊ, जाट मन्दिर होते हुए रविदास आश्रम पंहूची। जहां पं. मोहनलाल पुजारी ने वैदिक मंत्रोच्चारण के साथ पूजा अर्चना करवाकर प्रसाद वितरण किया गया।

तत्पश्चात समाज के प्रमुख जनों ने समाज में व्याप्त कुरितियों-बुराईंयों पर चर्चा करते हुए मृत्यु भोज बंद करने तथा नशा मुक्त समाज बनाने का सर्वसम्मति से निर्णय लिया गया। जयन्ति समारोह व बैठक में अन्नाराम डाबरिया, बाबूलाल कुलदीप, सुरजाराम डाबरिया, नरसाराम फलवाडिय़ा, भगवतीप्रसाद मण्डावरिया, कानाराम सबलानिया, किशनलाल तुनगरिया, पांचूराम मण्डावरिया, भगवानाराम सोनीवाल, सोहनलाल सबलानियां, घीसाराम तुनगरिया, लक्ष्मणराम सिंगाडिय़ा, शोभाराम जूनवाल, छगनाल बाकोलिया, लिखमाराम मण्डावरिया, हनुमान सिंगारिया, सम्पत कांसोटिया सहित अनेक लोगों ने भागीदारी निभाई।

NO COMMENTS

LEAVE A REPLY