गंदे पानी की निकासी को लेकर जमालपुरा के लोगों ने रोका रास्ता

SHARE

Dirty-Water

गंदे पानी की निकासी को लेकर कस्बे के जमालपुरा मौहल्ले के वाशिंदो ने सड़क पर मिट्टी डालकर गंदे पानी को आगे जाने से रोक दिया। जिस पर नगरपालिका अध्यक्ष डा. विजयराज शर्मा, अधिशाषी अधिकारी डा. भगवानसिंह, पुलिस उपाधीक्षक नितेश आर्य, सीआई रामप्रताप विश्नोई मौके पर पंहूचे तथा लोगों को समझाकर रास्ता खुलवाया। नगरपालिका अध्यक्ष डा. विजयराज शर्मा एवं अधिशाषी अधिकारी डा. भगवानसिंह ने तीन महीने में गंदे पानी की निकासी का स्थाई समाधान करने का आश्वासन मौहल्लेवासियों को दिया।

आश्वासन मिलने के बाद मौहल्लेवासी सड़क पर बनाये गये रेत के डोळे से एक तरफ हुए और उसके बाद पुलिस की मौजूदगी में दो जेसीबी मशीन लगाकर मिट्टी को हटाकर रास्ता खुलवाकर गंदे पानी को आगे जाने दिया। नगरपालिका अध्यक्ष डा. विजयराज शर्मा ने बताया कि गंदे पानी की निकासी के लिए जमीन आवंटित करने के लिए नागौर व चूरू कलेक्टर को पत्र लिखा हुआ है। डा. शर्मा ने बताया कि यहां पर पम्प हाऊस बनाकर जहां पर गैनाणी के पानी की निकासी की जा रही है वहीं पर यहां के पानी की निकासी करने के प्रयास किये जायेंगे। मौहल्ले में एक मदरसा व मस्जिद होने के कारण नमाज पढऩे आने वालों को गंदे पानी से होकर गुजरना पड़ता है।

लम्बे समय से नगरपालिका से लेकर विधायक तक समस्या के समाधान के लिए गुहार लगा चुके मौहल्लेवासियों के सब्र का बांध शनिवार दोपहर में हुई बरसात के बाद टूट गया और उन्होने सड़क पर मिट्टी डालकर रास्ता बंद कर दिया। प्रशासन से वार्ता के दौरान जगत मामा फारूक तेली, हीरा खिची, रफीक खीची, मो. अगवान, मो. चौहान सहित अनेक मौहल्लेवासी मौजूद थे। प्रदर्शन के दौरान सैंकड़ों की तादाद में महिलायें, पुरूष व बच्चे मौके पर उपस्थित रहकर रास्ता रोके हुए थे। मौके पर पुलिस जाप्ते के साथ -साथ नगरपालिका के सभी सफाई कर्मचारी भी उपस्थित थे।

NO COMMENTS

LEAVE A REPLY