खेलों के प्रति ग्रामीण अंचल में जागरूकता एक शुभ संकेत – खेमाराम मेघवाल

SHARE

Cricket-Competition

निकटवर्ती ग्राम पावर्तीसर में श्रीबालाजी क्रिकेट प्रतियोगिता का शुभारम्भ पूर्व मंत्री खेमाराम मेघवाल ने किया। ग्रामीण उत्थान समिति के तत्वाधान में आयोजित प्रतियोगिता की अध्यक्षता भाजपा जिला उपाध्यक्ष मांगीलाल पुजारी ने की तथा विशिष्ट अतिथि हंसराज पुजारी, मनोज भाणेज, राजकीय माध्यमिक विद्यालय पार्वतीसर के प्रधानाचार्य प्रभातीलाल जांगीड़, विप्र फाऊण्डेशन के जिला उपाध्यक्ष शैलेन्द्र लाटा, एड. विजेन्द्रसिंह शेखावत, भंवरलाल ढ़ाका, मेघराम ढिढ़़ारिया, तिलोक राव भी मंचासीन थे।

उपस्थित खिलाडिय़ों एवं आयोजकों तथा ग्रामवासियों को सम्बोधित करते हुए पूर्व मंत्री खेमाराम मेघवाल ने कहा कि खेलों के प्रति ग्रामीण अंचल में जागरूकता आना एक शुभ संकेत है। मेघवाल ने ग्रामीण एवं परम्परागत खेलों को संरक्षित करते हुए उन्हे बढ़ावा देने पर बल दिया। पूर्व मंत्री ने कहा कि खेल प्रेम, भाईचारा, आपसी सौहार्द को बढ़ावा देते हैं। हंसराज पुजारी ने कहा कि खेल को खेल की भावना से खेलें। एड. विजेन्द्रसिंह ने लुप्त हो रहे परम्परागत खेलों के संरक्षण एवं उन्हे जीवन्त रखने के लिए प्रतियोगिताओं का आयोजन करने का आह्वान किया।

शैलेन्द्र लाटा ने भी सम्बोधित किया। कार्यक्रम की अध्यक्षता कर रहे मांगीलाल पुजारी ने युवा पीढ़ी से नशा छोडऩे की अपील की। पुजारी ने कहा कि नशा मुक्त होने पर ही समाज एवं राष्ट्र का सर्वांगीण विकास सम्भव है। प्रतियोगिता का उद्घाटन मैच लोढ़सर एवं भीमसर के मध्य खेला गया। जिसमें लोढुसर ने पहले खेलते हुए भीमसर को 68 रन का लक्ष्य दिया।

जिसके जवाब में भीमसर ने तीन विकेट खोकर लक्ष्य हासिल कर लिया। मैन ऑफ द मैच का पुरूस्कार अकरम को दिया गया। प्रतियोगिता के उद्घाटन समारोह में महावीरसिंह शेखावत, मगनसिंह, लिच्छाराम मेघवाल, चेतनराम, करणीसिंह, राजूराम, लुणसिंह, किशोरसिंह, सुखाराम मेघवाल, पूनमसिंह, पुसाराम मुण्ड ने माला पहनाकर अतिथियों का स्वागत किया। प्रतियोगिता को सफल बनाने में सुरेन्द्रसिंह मुण्ड, महेन्द्रसिंह, श्रवण कालवा आदि प्रतियोगिता को सफल बनाने में अपना सहयोग दे रहे हैं।

NO COMMENTS

LEAVE A REPLY