नियमन दरों में संशोधन की मांग

SHARE

प्रशासन शहरों के संग अभियान में पट्टे नहीं बनवाने वालों पर कार्यवाही करने के राज्य सरकार द्वारा विडियो कान्फ्रेन्सिग के जरिये जिला कलेक्टरों को दिये गये आदेश का पथिक सेना ने विरोध किया है। संगठन के राष्ट्रीय अध्यक्ष महावीर पोसवाल ने कहा कि सरकार द्वारा तय की गई नियमन की दरें बहुत ज्यादा है, इन दरों के अनुसार गरीब एवं मध्यम श्रेणी का व्यक्ति किसी भी परिस्थिति में नियमन नहीं करवा सकता। पोसवाल ने कहा कि महंगाई की मार से जहां दो जून की रोटी का जुगाड़ मुश्किल से हो पा रहा है। उन्होने सरकार से नियमन दरों की समीक्षा कर उनमें संशोधन करने की मांग की है।

NO COMMENTS

LEAVE A REPLY