दामिनी की मौत पर शोक सभायें आयोजित

SHARE

damini

दामिनी की मौत से उद्वेलित कस्बे की विभिन्न संस्थाओं एवं युवाओं ने अनेक स्थानों पर शोक सभायें आयोजित कर ईश्वर से दामिनी की आत्मा को शांति प्रदान करने की प्रार्थना की। कस्बे के नया बाजार चौक में आयोजित शोक सभा को सम्बोधित करते हुए सामाजिक कार्यकर्ता सुरेन्द्र भार्गव ने दामिनी को बहादूर लड़की बताते हुए समाज से जागृत होने का आह्वान किया। शोक सभा में दो मिनट का मौन रखकर दामिनी की आत्मा को शांति प्रदान करने के लिए ईश्वर से प्रार्थना की गई।

इस अवसर पर लियाकत अली, सागरमल खत्री, सन्तोष शर्मा, शिवकुमार शर्मा, पवन मोची, जगदीश लड़ा, सुभाष फलवाडिय़ा, कमल सोनी, शिवप्रसाद बगडिय़ा, विनय सामरिया, निर्मल भार्गव, रिजाउल बंगाली, सदीक लुहार, सम्पत मोची, अयुब सब्जीफरोश, आसिफ सब्जीफरोश, प्रेम जोशी, जितेन्द्र शर्मा, दीपक भार्गव, सुधेन्द्र जोशी, राजेश सामरिया, बाबुलाल लुहार, शिवप्रसाद लाटा सहित अनेक लोग उपस्थित थे। इसी प्रकार सुप्रभात संस्थान के तत्वाधान में वीनस कॉचिंग सेन्टर पर शोक सभा आयोजित की गई।सभा को सम्बोधित करते हुए राजूसिंह भाटी ने आरोपियों को कड़ी से कड़ी सजा देने की मांग की तथा भविष्य में ऐसे दुष्कर्म नहीं हो इसके लिए सख्त कानून बनाने एवं उनकी पालना करवाने की सरकार से मांग की।

इस अवसर पर शिवराज पाराशर, रामचन्द्र भार्गव, दारासिंह, जगदीश भार्गव, चन्द्र मोहन, थावरमल भार्गव, गीतादेवी, प्रीति शर्मा, करणीसिंह भाटी, गोपाल सोनी, हेम कुमारी, मो. युसुफ गौरी, सुरेश भार्गव, देवीसिंह राठौड़ सहित अनेक लोगों ने दो मिनट का मौन रखा। इसी प्रकार प्रेरणा संस्थान कार्यालय में संस्था अध्यक्ष वैद्य भंवरलाल शर्मा की अध्यक्षता में शोक सभा का आयोजन किया गया। सभा को सम्बोधित करते हुए मंत्री यशोदा माटोलिया ने ऐसा कुकत्र्य करने के आरोपियों को फांसी की सजा देने की मांग करते हुए विधायिका, न्यायपालिका एवं कार्यपालिका से देश में लगातार बढ़ रहे दुष्कर्म के मामलों की रोकथाम के लिए सख्त कानून बनाने एवं उनकी पालना करवाने तथा समय पर न्याय मिलने की मांग करते हुए भारतीय संस्कृति एवं संस्कारों को नहीं भुलने एवं बच्चों को अच्छे संस्कार देने का अभिभावकों से निवेदन किया। इस अवसर पर कोषाध्यक्ष सावित्री शर्मा, सन्तोष शर्मा, भंवरीदेवी जाट, पूजा सारण, सुनीता सारण, सिमरन माटोलिया, शांति मेघवाल, राधा सैन, कनक शर्मा, दीप्तेश शर्मा, जयप्रकाश माटोलिया, वैद्य मांगीलाल शर्मा ने दो मिनट का मौन रखकर दामिनी की आत्मा को शांति प्रदान करने की ईश्वर से प्रार्थना की। संचालन शिवशंकर शर्मा ने किया।

NO COMMENTS

LEAVE A REPLY