इण्डीवर कार व दस लाख रूपये के लिए कुलवधु को घर से निकाला

SHARE

दहेज में इण्डीवर कार व दस लाख रूपये की मांग की पूर्ति नहीं होने पर ससुराल वालों द्वारा अपनी कुलवधु को घर से निकालने का मामला गत दिनों छापर थाने में दर्ज हुआ है। थाने में दर्ज प्रथम सूचना रिपोर्ट के अनुसार छापर के चैताखेड़ी निवासिनी खुशी उर्फ प्रभा दाधीच के अन्य युवतियों की तरह अपने होने वाले जीवन साथी एवं भावी जीवन को लेकर अनेक प्रकार की सपने थे। लेकिन शादी होने के बाद से ही खुशी को दहेज के दानव ने प्रताडि़त करना शुरू कर दिया।

प्रकरणानुसार खुशी उर्फ प्रभा की शादी झूंझनू निवासी व हाल दिल्ली निवासी मुरली मनोहर दाधीच के पुत्र शलीन के साथ 23 नवम्बर 2010 को उसके पिता कैलाशचन्द बड़ी धुमधाम व बड़े अरमानों के साथ की थी। शादी होते ही अरमान धराशायी हो गये और दहेज के लिए ताने देना, मारने-पीटने का सिलसिला शुरू हो गया। रिपोर्ट में आरोप लगाया गया है कि पति शलीन, सास सन्तोष, ससुर मुरली मनोहर, ननद प्राची तथा रमेश पुत्र स्व. राधेश्याम दाधीच दहेज में इण्डीवर कार लाने व दस लाख रूपये की मांग कर मारपीट करने लगे तथा शारीरिक व मानसिक प्रताडऩा देने और घर से बाहर निकालने की धमकी देने लगे।

एफआईआर में जबरन गर्भपात करवाने तथा फरवरी 2012 में ससुर द्वारा अश्लील हरकतें करने व लज्जा भंग करने का आरोप लगाया है तथा इसी दिन खुशी को धक्के देकर घर से निकाल दिया। रिपोर्ट में लिखा है कि इसके बाद हुई सामाजिक मिटिंग में भी ससुरालपक्ष इण्डीवर कार व दस लाख रूपये की मांग पूर्ति पर ही अडिग रहा। इस पर स्त्रीधन मांगने पर ससुरालवालों ने देने से इंकार कर दिया। पुलिस ने मामला दर्ज कर जांच शुरू कर दी। पुलिस ने इस प्रकरण में पीडि़ता खुशी की सास सन्तोष व ससुर मुरलीमनोहर को गिरफ्तार किया है।

4 COMMENTS

  1. esa samachar padkar bada dukh hota
    Police ko ese logo ke khilaf sakhati nipat na chahiye ……………………..

  2. Sujangarh jaisi nagari me pani ki samasya janam sidh adhikar h. netao ke ghar koi pani, bijali ki samasya koni rev.pan aam adami to pareshani m or pareshan h.

LEAVE A REPLY