रिक्तपदों पर नियुक्ति की मांग को लेकर छात्राओं ने समारोह में प्रदर्शन

SHARE

कस्बे के सबसे बड़े बालिका विद्यालय राजकीय कनोई बालिका माध्यमिक विद्यालय में अध्यापिकाओं रिक्त पदों पर नियुक्ति की मांग को लेकर विद्यालय की छात्राओं ने करीब दस किलोमीटर का सफर पैदल तय कर मुख्यमंत्री अशोक गहलोत के आगमन की सूचना पर समारोह स्थल पंहूची। मुख्यमंत्री अशोक गहलोत के नहीं आने से मायूस छात्राओं ने प्रदेशाध्यक्ष डा. चन्द्रभान के सम्बोधन के दौरान जमकर नारेबाजी की तथा जब उनकी बात को नहीं सुना गया तब उन्होने सरकार विरोधी नारे भी लगाये। छात्राओं का कहना है कि उनके विद्यालय में तीन महीने से 15 पद रिक्त हैं, तीन साल से कॉमर्स के अध्यापक नहीं है। छात्राओं का आक्रोश अपने चरम पर था।

छात्राओं ने हमारी मांगे पूरी करो, एक कचौरी दो समोसा इस सरकार का क्या भरोसा, एक-दो इस सरकार को उखाड़कर फेंक दो जैसे नारे लगाते हुए कार्यक्रम में जमकर प्रदर्शन किया। छात्राओं के हाथ से उनके द्वारा लाये गये बैनर आदि प्रशासन द्वारा छन लिये गये। छात्राओं के प्रदर्शन के दौरान सभी का ध्यान मंच से हटकर छात्राओं की ओर लग गया तथा प्रशासनिक अमला आक्रोशित छात्राओं को शांत करने में जुट गया। मंच की ओर से एड. सविता राठी व प्रदेश सचिव उषा बगड़ा ने छात्राओं से वार्ता की, लेकिन छात्रायें अपनी मांगों के बदले लिखित आश्वासन दिये जाने की मांग पर अड़ी रही। लेकिन छात्राओं की मांग को ना तो पीसीसी अध्यक्ष डा. चन्द्रभान ने सुना और ना ही जन स्वास्थ्य अभियांत्रिकी मंत्री डा. जितेन्द्रसिंह ने। इस पर आक्रोशित छात्राओं ने प्रेस दीर्घा में रखी कुर्सियों को उठाकर फेंकना शुरू कर दिया तथा कुछ छात्राओं ने मंच पर जाकर माईक से नारेबाजी करने का प्रयास किया लेकिन माईक को बंद करवा दिया गया।

NO COMMENTS

LEAVE A REPLY