पिछले 24 घंटे के दौरान करीबन 155 एमएम बारिश दर्ज

SHARE

पिछले चौबीस घण्टो में हुई लगातार बारिश से गुरूवार को पुरा शहर जलमग्र रहा। हरिजन बस्ती, गांधी बस्ती, चापटिया तलाई, दुलिया बास, नलिया बास,नवीन विद्यालय के सामने, हरिजन बस्ती स्थित विद्यालय न. 6 के सामने सहित अनेक बस्तियों में पानी भर गया। नलिया बास गोपालपुरा रोड़ में पानी भरने से लोगो को भारी परेशानी का सामना करना पड़ रहा है। गुरू वार सुबह बुदाबांदी का दौर दोपहर तक जारी रहा। दोपहर बाद में बरसात एक बार रूक गई। लेकिन शाम होते ही बुंदाबांदी का दौर फिर शुरू हो गया। कार्यवाहक उपखण्ड अधिकारी मूलचंद लूणीया ने बताया कि पिछले 24 घंटे के दौरान करीबन 155 एमएम बारिश दर्ज की गई है। उन्होंने बताया कि कस्बे में जमा बरसाती पानी की निकासी के लिए आठ स्थानों पर 2 जेनरेटर व 6 बिजली के पंप सेट लगाए गए हैं। अधिशाषी अधिकारी भगवान ङ्क्षसह ने बताया कि बरसात से प्रभावित खानपुर रोड़ स्थित 3 परिवारों के 15 लोगों को लाडनूं बाईपास स्थित दाधीच सेवा समिति भवन में ठहराया गया है। पीसीबी स्कूल के सामने स्थित चांद मोहम्मद लीलगर के मकान मे एक कमरें की चार पट्टियां टूट गई। वहीं हरिजन बस्ती में एक दीवार गिर गई।

बरसात के कारण गुरूवार को भी लाडनूं पुलिया स्थित धिंगाणियां बास क े कई घरो में 2 फीट से भी उपर पानी भर गया। इसी प्रकार नया बास की कस्बे को जोडऩें वाली सभी सड़कों पर पानी भरा रहा। दुलिया बास स्थित नगरपालिका द्वारा नवनिर्मित नाला पानी के बहाव में बेगया। नाला क्षति ग्रस्त होने से मौहल्ले का पानी अवरूद्ध हो गया। तहसील के एक दर्जन गांव अतिवृष्टी से प्रभावित हुए है। प्रभावित गांवो में जरिये पम्प सैट से पानी निकासी के प्रबंध किये गये। ग्राम लोढसर में कई घरो में पानी घूस गया तथा कई घरो की दिवारो में दरार आने के समाचार मिले है। सरपंच प्रतिनिधि कन्हैयालाल शर्मा ने बताया कि 15 एचपी पम्प सैट लगाकर पानी निकासी की जा रही है।

ग्राम धां में एक बीपीएल परिवार का मकान ढेह गया है। विकास अधिकारी विक्रमसिह ने बताया कि छह मकानो में दरारे आई है। जबकि ग्रामीण मांगीलाल ने सात मकान क्षतिग्रस्त होने की सूचना दी है। अतिवृष्टी से प्रभावित लोगो को सुरक्षित स्थानो पर पहुंचाया गया है। इसी प्रकार बामणिया 13 , खारिया कनिराम 1, राजियासर मीठा में एक मकान क्षतिग्रस्त होने की सूचना मिली है। बरसात से प्रभावित लोगो को सुरक्षित स्थान पर पहुंचाने का दावा प्रशासन कर रहा है। खुड़ी ग्राम के मांगीलाल जांगीड़ ने दूरभाष पर सूचना दी कि किशोरसिह पुत्र सुल्तानसिह, नेमीचंद पुत्र मालाराम ढोली, केशर देव ढोली, नोरंगलाल पुत्र लाखाराम मेघवाल सहित तीन अन्य परिवारो के मकान ढह गये है इनको सुरक्षित स्थानो पर ग्रामीणो द्वारा पहुंचा गया है।

इसी प्रकार ग्राम मालासी में गांव की गुवाड़ में पांच-पांच फुट पानी इक्कठा हो गया तथा कई लोगो के घरो में पानी घूस गया। तीन चार मकान भी बरसात के शिकार हो गये। सरपंच प्रतिनिधि हीरालाल मेघवाल ने पानी निकासी के लिए टे्रक्टर से पम्प सैट लगाकर व्यवस्था की है। ग्राम गोपालपुरा उच्च माध्यमिक विद्यालय में पानी टपकने से विद्यालय में खतरा बना हुआ है। प्रधानाचार्य ने इस संवाददाता को बताया कि अतिवृष्टी के चलते विद्यालय के कमरो के छत से बरसात का पानी चू रहा है। इसकी सूचना प्रशासन को दी है।

पूर्व प्रधान ने किया दौरा
बुधवार को हुई भारी बारिश से प्रभावित पंचायत समिति के एक दर्जन गांवो का दौरा कर पूर्व प्रधान व जिप सदस्य पुसाराम गोदारा ने स्थिति के हालात जाने। पूर्व प्रधान ने अतिवृष्टी से प्रभावित ग्राम बोबासर, मलसीसर, कोलासर, लालपुरा, मुरड़ाकिया, चारियां, खुड़ी, मालासी, तोलियासर, बामणिया, राजियासर मीठा, हरासर, आबसर का जायजा लिया। अतिवृष्टी से प्रभावित लोगो को सुरक्षित स्थानो पर पहुंचाने एवं आवास , भोजन , तीरपाल की व्यवस्था करने के संबंधित ग्राम पंचायत को आदेश दिये। इस बारे में पुसाराम गोदारा ने बताया कि अतिवृष्टी से एकत्रित होने वाले पानी के स्थाई समाधान के लिए ग्राम पंचायतो से पंचायतराज की विभिन्न योजनाओं के तहत प्रस्ताव मांगे है। उन्होने बताया कि बुधवार को हुई भारी बरसात के पानी की निकासी के लिए गांव बामणिया में दो जनरेटर सेट, कोलासर में एक, मालासी एक, खुड़ी दो, मलसीसर में एक जनरेटर सेट लगाये गये है। उन्होने बताया कि अतिवृष्टी से ढहे मकान के परिवारो के मुआवजे के लिए आपदा प्रबंधन के तहत कलेक्टर से वार्ता कर उन्हे राहत देने का प्रयास करेगे। प्रधान के दौरे के साथ पंचायत समिति सदस्य नानूराम ढाका, सरपंच भंवरलाल टेलर, भूराराम प्रजापत, पूर्व पंचायत समिति सदस्य करणाराम मेघवाल सहित अनेक जनप्रतिनिधि थे।

NO COMMENTS

LEAVE A REPLY