नाथो तालाब बरसात के पानी से हुआ लबालब

SHARE

अतिवृष्टी से प्रभावित बस्तियों का विधायक मा.भंवरलाल मेघवाल ने सोमवार को जायजा लिया। दुलिया बास स्थित अतिवृष्टी से प्रभावित मौहल्लो के पानी निकासी के लिए तहसीलदार मूलचंद लूणिया को निर्देश दिए। नगरपालिका द्वारा लगाये गये मोटरो का निरीक्षण किया। दुलिया बास में अत्याधिक बरसात पानी एकत्रित होने से कई गलियों का आवागमन बाधित हो गया। कई घरो में पानी घूसने के कारण लोगो का घरो से निकलना दुश्वार हो गया। पूर्व शिक्षामंत्री मा.भंवरलाल मेघवाल ने विभिन्न वार्डो का जायजा लेकर अतिवृष्टी से प्रभावित लोगो को तत्काल प्रभाव से राहत पहुंचाने एवं एकत्रित पानी को निकालने के पुख्ता प्रबंध करने के लिए नगरपालिका के अधिकारियों एवं प्रशासनिक अधिकारियों से वार्ता कर सरदारशहर से एक नई मोटर 20 एचपी व एक किलो मीटर पाइप लाइन विधायक कोष से उपलब्ध करवाई है।

विधायक ने दुलिया बास की दयनीय स्थिति बताते हुए समय रहते पानी निकासी नही होने पर स्थिति बिगड़ सकती है। विधायक के अथक प्रयासो से जिला कलक्टर एस के भाले से दूरभाष पर वार्ता कर सरदारशहर से दस व्यक्तियों की स्पेशल टीम एवं पाइप लाइन सहित मोटरे मंगवाकर पानी निकासी के प्रबंध किए जा रहे है। विधायक ने बताया कि हरिजन बस्ती की स्थित सामान्य हो गई है। लेकिन सोमवार को पुन: बरसात होने के कारण कुछ स्थानो पर पानी भर गया है। भरा पानी निकालने के लिए दो मोटरे लगाई गई है। इसी प्रकार गेनाणी व चापटिया तलाई में दो-दो मोटरे चालू है ओर पानी निकासी का कार्य युद्ध स्तर पर किया जा रहे है। समाज कल्याण विभाग के अनुसुचित जाति छात्रावास में पानी भर गया जिसके कारण अध्ययनरत 52 विद्यार्थियो को भारी असुविधा हो रही है।

छात्रावास के अधीक्षक रोहिताश ने बताया कि छात्रावास परिसर में चहूंओर पानी होने के कारण रसोई बनाने में भारी परेशानी हो रही है तथा विद्यार्थियो को स्कूल जाने भी दिक्कत हो रही है। मेघवाल के साथ पूर्व प्रधान पुसाराम गोदारा, तहसीलदार मूलचंद लूणिया, पार्षद प्रतिनिधि विद्याप्रकाश बाघरेचा सहित कई नेता साथ थे। वही दुसरी ओर सोमवार को अचानक हुई बरसात से पुरा शहर जलमग्र हो गया। तहसीलदार मूलचंद लूणिया के अनुसार 25 एमएम बरसात दर्ज की गई है।

NO COMMENTS

LEAVE A REPLY