एक ओर कटौती तो दूसरी ओर जल रही है दिन में रोड़ लाईटें

SHARE

एक ओर प्रदेश सरकार बिजली नहीं होने की दुहाई देते हुए बिजली कटौती कर रही है, वहीं दूसरी ओर शहर की रोड़ लाईटे भरी दुपहरी में भी जलते हुए कस्बेवासियों को चिढ़ा रही है। कस्बे की स्टेशन रोड़ की लाईटें लगातार पांच दिनों से अनवरत जल रही है। जिसकी व्यापारियों द्वारा बार-बार शिकायत करने के बाद भी नगरपालिका के ठेकेदार द्वारा रोड़ लाईटों को बंद नहीं किया गया। जिससे पालिका के बढ़ते बिजली बिल का भार भी नगरवासियों को वहन करना पड़ता है। व्यापारियों ने रोड़ लाईटे चालू रहने पर आने वाले अधिक बिल की ठेकेदार से वसूली करने की मांग की है।

कांग्रेस के युवा नेता मदन सोनी, मूलचन्द टाक, मेघराज सुंगत, नन्दलाल माली, बालचन्द, रवि सहित अनेक व्यापारियों ने उपखण्ड अधिकारी को ज्ञापन सौंपकर रोड़ लाईटें बंद नहीं करने के दोषी ठेकेदार के खिलाफ कार्यवाही करने की मांग की है। वहीं दूसरी ओर पूर्व विधायक रामेश्वर भाटी के नेतृत्व में आदर्श परिवर्तन मोर्चा के तत्वाधान में बिजली कटौती के विरोध में गांधी चौक से रैली निकाल कर नारे लगाते हुए लोग विद्युत विभाग के कार्यालय पंहूचे और वहां पर सहायक अभियन्ता एवं कनिष्ठ अभियन्ता के नहीं मिलने पर जमकर नारेबाजी की।

उसके बाद विभाग के लिपिक रणजीतसिंह को ज्ञापन सौंपकर अघोषित एवं अमर्यादित विद्युत कटौती बंद करने की मांग की। विद्युत विभाग के कार्यालय से रवाना होकर रैली उपखण्ड अधिकारी कार्यालय पंहूची, लेकिन वहां पर उपखण्ड अधिकारी, तहसीलदार, नायब तहसीलदार के नहीं मिलने पर कार्यालय के कर्मचारी सीताराम को ज्ञापन सौंपकर लौट गये। ज्ञापन सौंपने गये प्रतिनिधि मण्डल में भाजपा शहर मण्डल अध्यक्ष जंवरीमल बागड़ी, देहात अध्यक्ष गणपतराम डोकीवाल, पार्षद मनोज पारीक, लीलाधर शर्मा, बंशी गुर्जर, प्रदीप टाक, पूर्व पार्षद राजेन्द्र गिडिय़ा, लियाकत खां, बाबू खां, शेरसिंह भाटी, अशफाक खां, किशोर स्वामी, प्रकाश भार्गव, एड. तिलोक मेघवाल सहित अनेक कस्बेवासी शामिल थे। इसी प्रकार आजादी बचाओ आन्दोलन के स्थानीय संयोजक उतमप्रकाश दाधीच ने विद्युत विभाग के सहायक अभियन्ता को ज्ञापन सौंपकर अघोषित बिजली कटौती बंद करने की मांग की।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here