रशिक्षण शिविर में प्रशिक्षार्थी को प्रमाण पत्र देती हुए प्रधान नानीदेवी गोदारा

SHARE

पंचायत समिति परिसर में तीन दिवसीय पंचायती राज रिफे्रशर प्रशिक्षण शिविर का समापन पंचायत समिति प्रधान नानीदेवी गोदारा व उपखण्ड अधिकारी सी एल मीणा के सानिध्य में हुआ। शिविर के मुख्य वक्ता उपखण्ड अधिकारी मीणा ने कहा कि तीन दिन चले प्रशिक्षण के दौरान अलग-अलग विभागो की जिम्मेदारियों के बारे में अवगत करवाते हुए सरकार की कल्याण कारी योजनाओं को ग्रामीण क्षेत्र अंतिम छोर में बैठे गरीब को मिले लाभ। इसके लिए जनप्रतिनिधि अपने दायित्व का निर्वाह करते हुए सामाजिक रचनात्मक दायित्व को निभाए। उन्होने सभी जनप्रतिनिधियो से अपील कि नये शिक्षा सत्र में बालक-बालिकाओं का नामांकन करवाकर विद्यालय प्रवेशोत्सव मनाए।

उपखण्ड अधिकारी ने निर्देश दिए कि राजकीय मिशन के तहत आयोजित नसबंदी शिविरो में अधिकाधिक भाग लेकर ग्रामीण क्षेत्र के लोगो को प्रेरित कर जनसंख्या नियंत्रण में भागीदार बने। विकास अधिकारी विक्रमसिह ने तीन दिवस प्रशिक्षण शिविर दिए प्रशिक्षण के संबंध में सरपंचो से सवाल कर प्रशिक्षण की उपयोगिता की जानकारी ली। प्रगति प्रसार अधिकारी विद्याधर पारीक ने बताया कि पंचायत राज को सौपे गए पांचो विभाग के अधिकारियो द्वारा दी गई जानकारी पर चर्चा की। प्रशिक्षण प्राप्त सरपंचो व ग्राम सेवको को प्रशिक्षण पत्र दिए। इस अवसर पर गुलेरिया सरपंच कविता नायक, कानूता सरपंच सपना कंवर, बड़ाबर सरपंच अनिता चौधरी, लोढसर सरपंच प्रतिनिधि कन्हैयालाल शर्मा, भाषीणा सरपंच रामकरण लोळ, सांडवा सरपंच महेश तिवाड़ी,शोभासर लक्ष्मीनारायण मेघवाल, ग्राम सेवक हंसराज मीणा, जीवणराम नेहरा, घनश्याम भाटी, सुमेरमल महला, गोविन्दसिह, सोहनलाल प्रजापत, मनोज मीणा, ठाकुरमल कताला सहित सरपंच व ग्राम सेवक उपस्थित थे।

NO COMMENTS

LEAVE A REPLY