एएनएम भंवरीदेवी हत्याकाण्ड का आरोपी कैलाश जाखड़ धनेरू की ढ़ाणी से त्रिलोक खारड़ा के साथ गिरफ्तार

SHARE

गत 14 जुन को जोधपुर न्यायालय परिसर से सशस्त्र बदमाशों द्वारा फायरिंग कर छुड़ाकर ले जाये गये प्रदेश के बहुचर्चित एएनम भंवरीदेवी हत्याकाण्ड के मुख्य आरोपियों में से एक कैलाश जाखड़ को जोधपुर के चौपासनी हाऊसिंग बोर्ड के थाना प्रभारी अमित सिहाग ने अपनी स्पेशल टीम के साथ बीदासर – श्री डूंगरगढ़ मार्ग पर स्थित बीकानेर जिले के धनेरू गांव की रोही में स्थित एक ढ़ाणी से रविवार देर रात्री को गिरफ्तार कर लिया।

प्राप्त जानकारी के अनुसार बीकानेर जिले के श्री डूंगरगढ़ तहसील के धनेरू गांव की रोही में धनेरू के सरपंच रामूराम रेवाड़ के बड़े भाई हुलासराम रेवाड़ की दो ढ़ाणियां स्थित है। जिनमें से एक ढ़ाणी में हुलासराम खुद रहता है और दुसरी ढ़ाणी में हुलासराम का पुत्र भीखाराम रहता है। भीखाराम के ट्यूबवैल से जोधपुर के चौपासनी हाऊसिंग बोर्ड पुलिस थाना इंचार्ज अमित सिहाग के नेतृत्व में मुखबीर की सूचना पर पीछा करते हुए आई टीम ने रविवार रात करीब ढ़ाई बजे कैलाश जाखड़ को गिरफ्तार किया।

चौपासनी हाऊसिंग बोर्ड पुलिस थाना इंचार्ज अमित सिहाग ने फोन पर बताया कि एएनएम भंवरीदेवी मामले में कोर्ट परिसर से फरार हुए आरोपी कैलाश जाखड़ को बीदासर के पास स्थित किसी ढ़ाणी से गिरफ्तार किया है। सिहाग ने बताया कि जाखड़ के साथ त्रिलोकराम खारड़ा को भी गिरफ्तार किया गया है। सिहाग ने बताया कि आरोपी कैलाश जाखड़ पर पचास हजार रूपये एवं त्रिलोकराम खारड़ा पर एक हजार रूपये का इनाम घोषित किया हुआ था। अमित सिहाग के नेतृत्व में कैलाश जाखड़ को गिरफ्तार करने आई टीम में देरावरसिंह, नितिन दवे के अलावा 6 कांस्टेबल भी शामिल थे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here