स्टेशन रोड़ स्थित अग्रवाल ट्रस्ट में कांग्रेस कार्यकर्ताओं की बैठक

SHARE

क्षेत्रीय विधायक व पूर्व शिक्षा मंत्री मा. भंवरलाल मेघवाल ने स्थानीय स्टेशन रोड़ स्थित अग्रवाल ट्रस्ट में उपस्थित कांग्रेस कार्यकर्ताओं से आगामी विधानसभा चुनाव की तैयारी के लिए कार्यकर्ता अभी से कमर कसने का आह्वान करते हुए आने वाले कुछ समय बाद कोठ्यारी कुंज में मीठे पानी की योजना का शिलान्यास करवाउंगा और इसके साथ ही डीटीओ कार्यालय व ट्रोमा सेंटर का उद्घाटन भी होगा। कांगेस जिलाध्यक्ष भंवरलाल पुजारी की अध्यक्षता में आयोजित शहरी व देहात कार्यकर्ताओं की बैठक में मेघवाल ने कार्यकर्ताओं से आह्वान किया कि वे नए युवा चेहरों को पार्टी से जोड़ें व पार्टी हित में उनकी भूमिका तय करें। उन्होंने प्रदेश सरकार के भ्रष्टाचार उन्मूलन के लिए चलाए जा रहे एक बड़े अभियान के तहत कार्यकर्ताओं से कहा कि अगर कोई अधिकारी कर्मचारी आम आदमी से काम के बदले पैसे मांगता है तो उसे ट्रेप करवाओ।

उन्होंने आह्वान करते हुए कहा कि आज की तीन कार्यां लिए आयोजित बैठक में कार्यकर्ता बूथ,वार्ड व पंचायत कमेटियों का गठन करें व नए सिरे से मतदाता सूचियों में नाम जोडऩे बीपीएल परिवारो के चयन व राशनकार्ड बनवाने में अपना सकारात्मक सेाच के साथ योगदान दें। इस अवसर पर पूर्व प्रधान व जिप सदस्य पूसाराम गोदारा ने कहा कि कार्यकर्ता पार्टी की लोक कल्याणकारी रीति नीति का आमजन तक प्रचार करें। उन्होंने कहा कि केन्द्र व राज्य सरकार द्वारा जनहित में लागू की गई कल्याणकारी योजनाओं की जानकारी आम आदमी तक पहुंचाए। जिप सदस्य ने कहा कि इस बार सरकार ने गांवों के हालात के अनुसार शिक्षा के साथ स्वास्थ्य को प्राथ्मिकता देकर दूर गांव ढ़ाणी में बैठे जरूरतमंद को लाभ पहुंचाया है।

बैठक में बीदासर के पूर्व चैयरमेन मेघराज सांखला, सूरजाराम ढ़ाका, राधेश्याम अग्रवाल, इदरीश गौरी व शम्सूद्दीन स्नेही ने भी अपने विचार प्रकट किए। अंत में जिलाध्यक्ष भंवरलाल पुजारी ने सभी का आभर प्रकट कर धन्यवाद ज्ञापित किया। इस अवसर पर शहर ब्लॉक कांग्रेस कमेटी अध्यक्ष प्रदीप तोदी, नगर कांग्रेस अध्यक्ष रामावतार शर्मा, देहात अध्यक्ष कमला गोदारा, प्रतिपक्ष नेता रामनारायण प्रजापत, मनोज मितल, हाजी शम्सूद्दीन स्नेही, भ्ंावरलाल ढाका, जगदीश ढाका, लक्ष्मीनारायण स्वामी, मधू बागरेचा, धर्मेंन्द्र कीलका, बाबूलाल दूगड़ व खेातराम सहित अनेक लोग मौजूद थे। संचालन घनश्यामनाथ कच्छावा ने किया।

NO COMMENTS

LEAVE A REPLY