योग सिखाता है जीवन जीने की कला – कानपुरी महाराज

SHARE

मांडेता के श्री काशीपुरीश्वर महादेव मंदिर में चल रहे पांच दिवसीय योग प्रशिक्षण शिविर का समापन रविवार को हुआ। पतंजली योग समिति के तत्वाधान में आयोजित इस शिविर का समापन समारोह करंट बालाजी मंदिर लाडनू के महंत स्वामी बजरंगपुरी महाराज के सानिध्य में हुआ जिसमें सैंकड़ो योगप्रेमी उपस्थित थे। स्वामी कानपुरी महाराज ने पांच दिवसीय आयोजन के दौरान हुई गतिविधियों को रेखांकित करते हुए कहा कि योग हमें जीवन जीने की कला सीखाता है। प्रत्येक व्यक्ति के जीवन में अगर योग का नियमित स्थान हो तो हम एक बिमारी मुक्त समाज की कल्पना कर सकते हैं। स्वामी कानुपरी महाराज ने उपस्थित योग अभ्यर्थियों से योग को दिनचर्या में आवश्यक रूप से शामिल करने की अपील की।

कार्यक्रम में योगाचार्य पवन जोशी का अभिनंदन शिविर संयोजक शंकरलाल सामरिया, श्यामलाल गोयल, गांधी आश्रम के सुभाष बैदी, रतनलाल सैन, रजनीश भोजक, बजरंगलाल बोदलिया, पूर्व विधायक रामेश्वरलाल भाटी, दानमल भोजक, कुंदनमल स्वामी, विनोद दाधीच, मातादीन कौशिक, मांगीलाल मेघवाल, जिला उपाध्यक्ष भाजपा यशोदा माटोलिया, गणेशी बुगालिया आदि ने किया। योगाचार्य सत्यनारायण सेवदा, बनवारीलाल भीमसर ने लोगों को योग करने में सहयोग किया। समारोह के अंत में स्वामी कानपुरी महाराज ने उपस्थित जनों से आगामी 9 अगस्त को दिल्ली में योगगुरू स्वामी रामदेव के प्रस्तावित अनशन के कार्यक्रम में अधिकाधिक संख्या में भाग लेने की अपील की।

NO COMMENTS

LEAVE A REPLY