पंचायत समिति परिसर में अधिकारियों की बैठक को सम्बोधित करते हुए

SHARE

क्षेत्रीय विधायक मा.भंवरलाल मेघवाल ने सोमवार को पंचायत समिति में बिजली,पानी के संबंध में अधिकारियों की बैठक ली। बैठक में ग्राम मंगलूणा जलप्रदाय योजना से पानी की आपूर्ति नही की जा रही है इस संबंध में कनिष्ठ अभियंता ने बताया कि वर्तमान में 22 ट्यूबेल चालू है ओर बिजली के कारण पेयजल आपूर्ति प्रभावित है। ग्राम शोभासर के सरपंच लक्ष्मीनारायण मेघवाल ने गांव में पेयजल आपूर्ति समय पर नही हो रही है जिस पर कनिष्ठ अभियंता ने बताया कि ग्राम शोभासर में तीन दिन से पानी की आपूर्ति की जा रही है। कनिष्ठ अभियंता ने विधायक को बताया कि वीसीपी हर फील्टर पर होना चाहिए ग्राम सालासर में एक वीसीपी लगाना अतिआवश्यक है। जिसकी लागत करीबन 4 लाख है। जलदाय विभाग के कुओं कनेक्शन शीघ्र किया जाये।

सामान के अभाव में ट्यूबेलो पर कनेक्शन नही हो रहे है। बेरासर ट्यूबेल कनेक्शन का सामान 18 जून से पहले-पहले उपलब्ध करवाये ताकि उसका उद्घाटन निर्धारित समय पर हो सके। क्षेत्रीय विधायक ने एक्सएन जे आर नायक को निर्देश दियाकि अपने क्षेत्र के सहायक अभियंता को पाबंद करे ताकि समय पर सामान उपलब्ध करवाया जाकर ट्यूबेलो को चालू किया जा सके। जे आर नायक बताया कि विद्युत कनेक्शन के होने के साथ ही ट्यूबेल चालू हो जायेगे। सेठो की ढाणी की योजना की समीक्षा करते हुए न्यामा, खारिया, स्यानण, ओपन कुआ है, ग्राम बाघसरा अगुणा में नया ट्यूबेल में मीठा पानी है। ग्राम शोभासर में सात ट्यूबेलो पर मात्र एक कर्मचारी कार्यरत है। जबकि सात ट्यूबेल पर कम से कम दो तीन कर्मचारी होने जरूरी है। इसी प्रकार सेठो की ढाणी सहित चार स्कीमो पर कर्मचारियों का अभाव बना हुआ है। पानी की खपत व धरातल में जा रहे कु ओं पर समर्सिबल मीटर 160 से 220 होने चाहिए। क्योकि की पानी गहराई पर जाने के कारण पानी का खिंचाव कम हो रहा है। ग्राम पंचायतों के ग्राम सेवकों व जनप्रतिनिधियों के द्वारा मॉनिटरिंग सही समय पर किये जाने पर पानी की समस्या का समाधान किया जा सकता है। भीमसर गांव में पानी में फ्लोराइड की मात्रा अधिक होने से पानी पीने योग्य नही है।

जबकि पानी पर्याप्त मात्र में है। गांव लोढसर , मंगलूणा, सेठो की ढाणी, न्यामा, सभी क्षेत्रो में चौबीस घण्टे बिजली उपलब्ध करवाने के निर्देश बिजली विभाग के अधिकारियों को दिये। जलाप्रभावित क्षेत्रो में टेंकरो से पानी उपलब्ध करवाने के निर्देश देते हुए की जा रही सप्लाई का समय पर निरीक्षण किया जाना जरूरी है। डंूगरास, भानिसरिया, हरावतान, तेज, ढाणी गाडजी, लोळा, टाडा, जीनरासर सहित जलाप्रभावित गांवो में की जा रही टेंकरो से सप्लाई की निगरानी ग्राम सेवक, पटवारी, गिरदावर द्वारा की जानी आवश्यक है। सुजानगढ कस्बें के उद्योगिक क्षेत्र को अलग से पानी व्यवस्था करने के निर्देश दिये। इस अवसर पर पूर्व प्रधान पुसाराम गोदारा,उपखण्ड अधिकारी सी एल मीणा, तहसीलदार मूलचंद लूणिया, बीदासर तहसीलदार श्योराम वर्मा, जिला परिषद सदस्य लक्ष्मीनारायण स्वामी, भानिसरिया सरपंच दिवानसिह, लोढसर सरपंच प्रतिनिधि कन्हैयालाल शर्मा, शोभासर सरपंच लक्ष्मीनारायण मेघवाल, उपसरपंच भागीरथ डूडी, तिलोकसिह राव, सांडवा सरपंच महेश तिवाड़ी, कांशीराम ओझा, इब्राहिम, ओमप्रकाश पाण्डिया, रूपनाथ, अधिाशाषी अभियंता जे आर नायक, गंगाराम मौर्या, रामेश्वरलाल चौधरी, रंगीलाप्रसाद गुप्ता, बिजली विभाग के सहायक अभियंता जसवंतसिह, मनीराम सहित अनेक प्रशासनिक अधिकारी उपस्थित थे।

NO COMMENTS

LEAVE A REPLY