कैसा रहा सुजानगढ़ ऑनलाइन का दो साल का सफ़र

SHARE

आज ही के दिन दो साल पहले सुजानगढ़ की न्यूज़ वेबसाइट “सुजानगढ़ ऑनलाइन” की शुरुआत हुई थी। सुजानगढ़ कि पहली न्यूज़ वेबसाइट जो अपने आप में एक ब्रांड बन चुकी है। 2 साल से लोग रोज वेबसाइट पर न्यूज़ पढ़ रहे हैं पर आज हम ध्यान देंगे इस वेबसाइट कि कुछ ऐसी बातों पर जो बहुत कम लोग जानते हैं और जिनको जानना हमारे पाठकों के लिए बहुत जरुरी है।

बहुत से लोगो को लगता है की हम इसे एक बिज़नस की तरह चलाते हैं पर शायद लोग नहीं जानते कि पिछले 2 साल से हम वेबसाइट को बिना किसी प्रोफिट के चला रहे हैं। वेबसाइट पर आने वाला पूरा खर्चा “अरमान मीडिया” द्वारा दिया जाता है जिसमे डोमेन रजिस्ट्रेशन, वेब होस्टिंग, न्यूज़ लिखना, कैमरा, संवादाताओं का न्यूज़ कवर करने जाना आदि शामिल है।

इस साईट को बनाने का मकसद था सुजानगढ़ कि जानकारी को उन लोगों तक पहुँचाना जो सुजानगढ़ से दूर हैं। अगर आप सुजानगढ़ से बाहर किसी सुजानगढ़ वाले से मिले तो आपको कुछ ऐसे वाकया जरुर सुनने को मिलेंगे “गाँव का काई हाल चाल ह”, “और सुना गाँव कि कोई नई पुराणी”, “गाँव म के चाल रीय ह आजकल”। सुजानगढ़ से बाहर जाने के बाद भी लोग जानना चाहते हैं यहाँ क्या चल रहा है।

न्यूज़ पेपर सिर्फ लोकल लोग ही पढ़ पाते है , दूर रहने वाले लोगो के पास कोई रास्ता नहीं होता है। देश से बाहर रहने वाले लोग अक्सर हमे फ़ोन करते हैं, मेल भेजते हैं और साईट पर कमेन्ट करते हैं कि किस तरह से वो सुजानगढ़ से दूर होने के बाद भी सुजानगढ़ से जुड़े रहते हैं। कुछ लोग मिले जो कहते हैं कि उन्होंने सुजानगढ़ ऑनलाइन को अपना होमपेज बना रखा है, कंप्यूटर चलाते ही सबसे पहले सुजानगढ़ कि ख़बरें ही देखते हैं।

अब जानते है कि केसे हुई वेबसाइट कि शुरआत –

इस वेबसाइट की शुरुआत 2009 में हो रही थी पर उस समय मैं ( अरमान भाटी ) पढाई के लिए जयपुर रहता था जिसके चलते वहां से सुजानगढ़ की वेबसाइट को चलाना बहुत मुश्किल था। फिर अप्रेल 2010 में जब मैं कुछ दिनों के लिए सुजानगढ़ आया तो अपने पुराने मित्र नितिन शर्मा से मिला जो वेबसाइट का पहले एडिटर बना। वेबसाइट चलने के लिए हमारा बजट बहुत कम था जिससे वेबसाइट के लिए रोज न्यूज़ लाना मुश्किल था।

उसी समय सुजानगढ़ के थार टी वी पर न्यूज़ शो चला करता था जिसे सभी सुजानगढ़ वाले देखते थे, थार टी वी की मदद से हमे पुरे दिन की न्यूज़ मिल जाती और उसी न्यूज़ को हम वेबसाइट के माध्यम से पूरी दुनिया तक पहुंचा देते। कुछ समय बाद राजनितिक कारणों से थार न्यूज़ को बंद कर दिया गया और हमने स्थानीय संवादाताओ से न्यूज़ अपडेट्स लेना शुरू किया।

फिर कुछ समय के बाद हमारे संपादक नितिन को काम के लिए मुंबई जाना पड़ा। मैं पहले से ही जयपुर था और नितिन के मुंबई जाने के बाद कुछ महीनो तक साईट बिना किसी अपडेट के ही रही। हमे जो भी लोग मिलते वो यही पूछते की साईट को अपडेट क्यों नहीं करते हो।

पढाई होने के बाद सुजानगढ़ आकर सुजानगढ़ की पहली वेब मीडिया कंपनी “अरमान मीडिया” की शुरुआत की। यह सुजानगढ़ कि पहली वेब मीडिया कंपनी है, जिसका उद्देश्य प्रोफिट पर ध्यान देने से ज्यादा सुजानगढ़ में इन्टरनेट के माध्यम से विकास करना हैं।

वेबसाइट को हमेशा रीडर्स का पूरा सहयोग मिलता रहा है। कुछ समय पहले हमारे एडिटर को मिली धमकी के बाद लोग हमसे मिले और बताया कि वो हमेशा हमारी सहायता के लिए तैयार है आप बिना किसी का पक्ष लिए खबरे प्रकाशित करते रहिये। सुजानगढ़ के वेब डेवेलपर्स, सॉफ्टवेर इंजिनियरर्स जो सुजानगढ़ के बाहर हैं, हमसे सपर्क किया कि वो वेबसाइट में किसी भी प्रकार का योगदान देने लिए लिए हर समय तत्पर हैं।

एक वेबसाइट के माध्यम से सुजानगढ़ को इन्टरनेट पर अलग जगह दिलाने के हमारे प्रयास को सभी जगह सराहा गया जिसके लिए हम आप सभी के शुक्रगुजार हैं। हम हमेशा अपनी तरफ यही कोशिश करेंगे कि हम कैसे सुजानगढ़ के विकास में अपने हाथ बंटा सकें।

सुजानगढ़ ऑनलाइन के विजिटर्स कि संख्या हर महीने बढती जा रही है, मार्च 2012 मई 6000 लोगो ने वेबसाइट पर न्यूज़ पढ़ी। वेबसाइट के फसबूक पेज पर भी लगभग 1000 लोग हैं।

22 COMMENTS

  1. i read about the web developing on sujangarh.. i too worked on it.. i updated google maps to a great extinct.. pursuing CSE from The LNMIIT [www.lnmiit.ac.in].. always there for help.. you guys can contact anytime.. 🙂

  2. आपकी लगन और म्हणत से ही सुजानगढ़ ऑनलाइन आज इस मुकाम तक पहुंचा है!
    म्हारी मंगलकामना आपरे साथ है भाटी सा ..

  3. abroad me rahene ke baad bhi…i can get everything news abt. sujangarh ..thanx arman MEdia nd all ppl who belong 2 diz web..bt make it update daily pls. i request 2 a||…

  4. Dear Armaan,

    i am in Lucknow at this time, i always read the news from this site. i think this site is better then Rajasthan Patrika & bhaskar for local news.

    Thanks,
    Ramakant

    • Thanks ramakant ji
      but we can not compare to rajasthan patrika and basker because they are national level news papers and their main focus is national news, they cant cover all news of a town.

  5. Arman Bhati aap ko bahut badhai ho .

    Aap ke Madhyam se hame apne desh ki sampurn khabare mil jati hai wo bhi itni dur iske liye aapka sukriya.

    Aane wale time ke liye aapko Hardik Subhkamnaye.

  6. ERY GOOD WORK MR ARMAN V NITIN BHAI GAM SAHAR KI NEW HUMME SUNKAR PADKAR ACHA LAGTA H HUMME SURAT ME GAM KA SA AHSAS HOTA H NEWS PADKAR THANKS

    SUSHIL PARTANI
    OPP PURANA CHUNGI NAKA LADNUN ROAD
    NEAR SANKHLA TENT HOUSE

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here