रेल बजट को कांग्रेसियों ने विकासोन्मुखी बताया तो भाजपाईयों ने निराशाजनक

SHARE

रेल बजट को लेकर कस्बे में लोगों की मिश्रित प्रतिक्रिया सामने आई है। कांग्रेसियों ने जहां रेल बजट को विकासोन्मुखी बताया है, वहीं भाजपाईयों ने निराशाजनक बताया है। पूर्व मंत्री खेमाराम मेघवाल ने रेल बजट को निराशाजनक बताते हुए कहा कि इस बजट से शेखावाटी क्षेत्र को जो आशाएं थी वे सब धुमिल हुई है। बजट में शेखावाटी की पूरी तरह से उपेक्षा की गई है। उन्होने कहा कि सुजानगढ़ को आदर्श स्टेशन घोषित किया है, लेकिन जब सवारी गाडिय़ा ही नहीं होगी तो आदर्श स्टेशन होने का क्या लाभ। मेघवाल ने कहा कि इस ट्रेक को तो मालगाड़ी का ट्रेक बनाकर रख दिया है, दिनभर मालगाडिय़ां गुजरती रहती है और फाटक बंद रहने से आम आदमी परेशान होता रहता है, ऊपर से किराये का आम जनता पर बोझ लाद दिया है।

शहर ब्लॉक कांग्रेस अध्यक्ष प्रदीप तोदी ने बजट को सराहनीय बताते हुए कहा कि बजट में किराये बढ़ाना आवश्यक था। ईधन की कीमतों में लगातार हो रही वृद्धि के बाद भी युपीए सरकार ने नौ साल तक रेल किराये में बढ़ोतरी नहीं कर साहस का काम किया था, लेकिन रेलवे के विकास के लिए किराये में बढ़ोतरी जरूरी थी। तोदी ने कहा कि सुजानगढ़ को आदर्श स्टेशन घोषित करने के अलावा सुजानगढ से उदयपुरवाटी नये रेल मार्ग का सर्वे की घोषणा के साथ ही रानीखेत काठगोदाम व रेवाड़ी -डेगाना को जोधपुर तक बढ़ाया है। भाजपा की चूरू जिला उपाध्यक्ष यशोदा माटोलिया ने रेल बजट को आम आदमी की आवश्यकताओं से परे बताते हुए कहा कि बजट में स्वपन तो बहुत दिखाये गये हैं, लेकिन उनके स्थान पर रेल मंत्री महोदय ने आम जन की आवश्यकताओं को ध्यान में रखते हुए जोधपुर – सरायरोहिल्ला को बाड़मेर देहरादून तक विस्तारित कर नियमित करना चाहिए था। नगर कांग्रेस अध्यक्ष रामवतार मंगलहारा ने रेल बजट को सराहनीय बताया है।

चूरू जिला विकास समिति के बाबूलाल दुगड़, महावीर इन्टरनेशनल के महासचिव नरसाराम फलवाडिय़ा, पूर्व चैयरमेन हाजी गुलाम सदीक छींपा तथा सत्यनारायण खाखोलिया ने रेल बजट को जनता के साथ छलावा बताते हुए कहा कि रेल मंत्री ने क्षेत्र को एक भी नई रेलगाड़ी नहीं दी तथा जोधपुर-रेवाड़ी को नियमित तथा दिल्ली तक विस्तारित नहीं कर क्षेत्र की जनता के साथ धोखा किया है। गोपालपुरा की पूर्व सरपंच सविता राठी ने बजट को राजस्थान के लिए विकासोन्मुखी बताते हुए कहा कि इस बजट में आधारभुत सुविधायें बढ़ाने तथा रेल दुर्घटनाओं की रोकथाम के लिए रेलों में सुरक्षा उपकरणों को लगाने पर जोर दिया गया है।

जिनकी क्रियान्वित होने पर दुर्घटनाओं में कमी आयेगी, जिससे जान-माल का नुकसान कम होगा। दी यंग्स क्लब के सांस्कृतिक सचिव गिरधर शर्मा ने रेल बजट पर प्रतिक्रिया व्यक्त करते हुए सुजानगढ़ को आदर्श स्टेशन घोषित किये जाने, रानी खेत काठगोदाम एक्सप्रेस-जोधपुर वाया सुजानगढ़ संचालन, रेवाड़ी-डेगाना पेसेन्जर को जोधपुर तक बढ़ाये जाने सहित सुजानगढ़, सालासर, सीकर, उदयपुरवाटी, नीम का थाना नई रेल लाइन सर्वे की घोषणा को क्षैत्रवासियों के लिए सार्थक कदम बताया है वहीं जोधपुर-दिल्ली सराय रोहिल्ला ट्रेन को नियमित नही करने पर निराशा व्यक्त की है। एड. कमल गोयतान ने रेल किराये में बढ़ोतरी को जायज बताते हुए कहा कि इससे रेल सुविधाओं का विकास होगा। सेवानिवृत स्टेशन मास्टर मधुसूदन अग्रवाल ने किरायावृद्धि को आमजन पर बोझ करार दिया है। एड. तिलोकचन्द मेघवाल ने बजट को निराशाजनक बताते हुए कहा कि पिछले में बजट में की गई घोषणाओं की अभी तक क्रियान्विति नहीं हुई।

1 COMMENT

  1. Agar congress party ko Rail budget itna acha laga to fir kayon nai Rail minister ke sath bolkar usko support karte hain,kayon puri party Manmohan Singh (jiski kuch bolne ki himat nai)ban gai hai.

LEAVE A REPLY