मोहर्रम पर स्थानीय पुलिस थाने में शांति समिति की बैठक

SHARE

मोहर्रम के त्यौंहार को ध्यान में रखते हुए स्थानीय पुलिस थाने में शांति समिति की बैठक उपखण्ड अधिकारी चिमनलाल मीणा के सानिध्य में आयोजित की गई। बैठक में तहसीलदार महेन्द्रसिंह चौधरी, पुलिस उपाधीक्षक नितेश आर्य, सी.आई. जगदीश बोहरा, नगरपालिका अध्यक्ष डा. विजयराज शर्मा एवं इदरीश गौरी मंचासीन थे। बैठक में मोहर्रम पर ताजियों के रास्ते में सफाई, यातायात, बिजली एवं पेयजल व्यवस्था पर चर्चा की गई।

बैठक को सम्बोधित करते हुए उपखण्ड अधिकारी चिमनलाल मीणा ने कहा की शांतिपूर्ण वातावरण, सहयोग, भाईचारा और प्रेम की मिसाल सुजानगढ़ अब तक प्रस्तुत की है, जिसे बनाये रखने में सर्वसमाज अपना सहयोग प्रदान करे। बैठक में मोहम्मद अली ने केजीएन रोड़़ पर सडक़ निर्माण शुरू होने की सम्भावना व्यक्त करते हुए निवेदन किया की सडक़ एक दो दिन में बने नहीं तो मोहर्रम के बाद सडक़ का निर्माण हो, जिससे ताजिये निकालते समय किसी प्रकार कि कोई परेशानी ना हो। पूर्व नगरपालिका अध्यक्ष हाजी गुलाम सदीक छींपा ने ताजियों केरास्तें में टंगे बैनरों को हटवाने कि मांग की।

बैठक में चम्पालाल तंवर, सन्तोष बेडिय़ा व बशीर खां फौजी ने मुख्य बाजारों में सफाई व्यवस्था पर सवालिया निशान लगाते हुए कहा की बाजार की नालियों की सफाई नहीं होती है। तंवर ने नगरपालिका अध्यक्ष व अधिशाषी अधिकारी से कहा की आपके कर्मचारी काम नहीं करते हैं, उन पर अंकुश लगाना जरूरी है। बशीर खां फौजी ने कहा की बैठको में चर्चा करने से खुद नहीं होता, धरातल पर भी काम होना चाहिए और दिखना चाहिए की सफाई हुईहै। फौजी ने बैठको में होने वाले निर्णयों की पालना करवाने की मांग की। सन्तोष बेडिय़ा ने कहा जमादार सफाई कर्मचारियों से काम लेने में सक्षम नहीं है।

सफाई कर्मचारी के अनुपस्थित होने पर भी उसकी उपस्थिति लगाई जाती है। इन आरोपों के बीच नगरपालिका अध्यक्ष डा. विजयराज शर्मा ने कहा की व्यापारी एवं जनता के सहयोग के बिना नगरपालिका कुछ नहीं कर सकती। दुकानदार कचरा व डिस्पोजल सामान नालियों में गिराते हैं, जिससे नालियां अवरूद्ध हो जाती है। डा. शर्मा ने कर्मचारियों की कमी के बारे में बताते हुए कहा की 8 कर्मचारी सेवानिवृत हो चूके हैं तथा दो सेवानिवृत होने वाले हैं।

डा. शर्मा ने जानकारी दी की नगरपालिका में सफाई निरीक्षक का पद पिछले दस वर्षोँ से खाली पड़ा है। अधिशाषी अधिकारी रामचन्द्र कुल्हरी ने कहा की व्यापारी नालियों की सफाई नहीं करने देते, नालियां ढक़ देते हैं और सफाई करने जाने वाले कर्मचारी को वापस भेज देते हैं। बैठक में प्रतिपक्ष नेता रामनारायण प्रजापत, पार्षद गणेश मण्डावरिया, बीरबल प्रजापत, हाजी नत्थू गौरी, पूर्व पार्षद अब्दूल सबूर बेहलीम, मो. इकबाल मौलानी, अनिल मिश्रा, हाजी शम्सूद्दीन स्नेही, घीसूलाल बागड़ा, बिजली विभाग के सहायक अभियन्ता जसवन्तसिंह सहित अनेक गणमान्यजन उपस्थित थे।

बैठक में ताजियेदार असगर अली काजी, उस्मान निवारिया, युनूस खीची व युसूफ काजी को ताज्जियों के साथ समाज के मौजीज आदमी रखने ताजियों को समय पर कर्बला में पंहूचने की व्यवस्था करने की हिदायत दी गई।

NO COMMENTS

LEAVE A REPLY