विद्युत चोरी की जाँच की माँग

SHARE

सुजानगढ़ : जन चेतना मंच की सुजानगढ़ शाखा के संयोजक सुरेन्द्र भार्गव ने मुख्यमंत्री राजस्थान सरकार को एक पत्र लिखकर विद्युत निगम के अधिकारियों द्वारा टारगेट पूर्ति की कुचेष्टा में आम घरेलू उपभोक्ताओं के शोषण करने के खिलाफ आवाज उठाते हुए बताया है कि अधिकारियों के दब्बूपन के चलते बिजली चोरी करके कई लोग राजकोष को घाटा पहुँचा रहे है। पत्र में भार्गव ने लिखा है कि राज्य विद्युत मण्डल को भंग कर निजीकरण किये जाने के पश्चात विद्युत उपभोक्ताओं का विभिन्न प्रकार से शोषण किया जा रहा है, क्योंकि निगम द्वारा अधिकारियों को टारगेट दिये जाते है। टारगेट पूर्ति की कुचेष्टा में उपभोक्ताओं का आर्थिक शोषण करते हुए उनकी फरियाद को दरकिनार किया जाता है। वहीं दूसरी ओर कुछ स्वार्थी लोग राजनेताओं की शहर पर धड़ल्ले से अधिकारियों से मिलीभगत करके विद्युत चोरी कर निगम को आर्थिक हानि पहुँचा रहे है। भार्गव ने बताया कि अगर सुजानगढ़, छापर, बीदासर, साण्डवा के निकटवर्ती गाँवों और ढाणियों की उच्च स्तरीय जाँच करवाई जावे तो प्रतिमाह लाखों यूनिट बिजली चोरी का खुलासा हो सकता है। भार्गव ने बिजली चोरी पर रोकथाम लगाने व उपभोक्ताओं को आर्थिक शोषण से मुक्त करवाने की मांग मुख्यमंत्री से की है।

NO COMMENTS

LEAVE A REPLY