भ्रष्टाचार के खिलाफ किया गया प्रदर्शन

SHARE

सुजानगढ.: कुछ दिनों पहले हुए भ्रष्टाचार प्रकरण में जिला कलेक्टर के द्वारा एपीओ किये गये राजकीय अस्पताल के दो चिकित्सक को वापस बहाल कर सुजानगढ. में लगाये जाने के कारण जनता गुस्सा हो गयी और इसके विरोध में गुरूवार को गाँधी चौक से रैली निकाल कर भ्रष्टाचार के खिलाफ प्रदर्शन किया। जनचेतना मंच की और से यह रैली निकाली गई। कार्यकर्ताओं द्वारा शिक्षामंत्री के खिलाफ नारेबाजी की गई। सर्जन डॉ. एस.के. छाबङा डॉ. शेरसिंह को भ्रष्ट बताया गया। जनचेतना मंच के संयोजक सुरेन्द्र भार्गव के नेतृत्व में यह रैली निकाली गई। यह रैली लाडनूँ बस स्टेण्ड, गणेश मंदिर चौक होते हुए तहसील के कार्यालय पहुँची। प्रदर्शनकारियों ने तहसील कार्यालय पर अस्पताल के दलालों कोजूते मारो सालों को जैसे नारे लगाकर प्रदर्शन किया। इसके बाद राज्यपाल के नाम से तहसीलदार महेन्द्र चौधरी को ज्ञापन सौंपकर भ्रष्टाचार राजकीय अस्पताल की अनियमितताओं को मुक्त किये जाने की माँग की। भार्गव ने कहा कि ऐसे भ्रष्ट चिकित्सकों की सुजानगढ. की जनता को जरूरत नहीं है। दोनों चिकित्सकों की वापिस सुजानगढ. नहीं आने की बात पर ही धरना उठाया गया था। शैलेन्द्र लाटा, तहसील अध्यक्ष लियाकत खाँ, शाकिर खान बैसवा, कमल बागङा, रामनिवास इन्दौरिया, भवानीसिंह, मनोज तिवाङी तहसील प्रमुख शिव सेना, सहित सैंकङों लोगों द्वारा धरना दिया गया था। धरने के बाद भी उचित कार्यवाही नहीं होने पर जनता में रोष व्याप्त है।

NO COMMENTS

LEAVE A REPLY